Home खेल इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने कहा- धोनी जैसे खिलाड़ी कई पीढ़ियों बाद...

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने कहा- धोनी जैसे खिलाड़ी कई पीढ़ियों बाद आते हैं, उन्हें संन्यास के लिए मजबूर न करें; वो चले गए तो वापस नहीं आएंगे

  • नासिर हुसैन के कहा- धोनी भारतीय क्रिकेट को काफी कुछ दे सकते हैं, इसलिए उनके करियर को लेकर फैसला करने में जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए
  • महेंद्र सिंह धोनी पिछले 9 महीने से क्रिकेट से दूर हैं, उन्होंने पिछला अंतरराष्ट्रीय मैच 2019 वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था 

हलचल टुडे

Apr 11, 2020, 04:07 PM IST

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और कॉमेंटेटर नासिर हुसैन ने महेंद्र सिंह धोनी को लेकर कहा कि उन्हें संन्यास के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए। क्योंकि एक बार वो चले तो वापस नहीं आएंगे। उन्होंने एक स्पोर्ट्स चैनल के शो में यह बात कही। हुसैन ने कहा कि धोनी जैसे खिलाड़ी कई पीढ़ियों बाद आते हैं। जितना मैंने उन्हें देखा है, मुझे अभी भी लगता है कि वे भारतीय क्रिकेट को काफी कुछ दे सकते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि हां, यह सही है कि एक-दो बार टारगेट का पीछा करने में उनसे चूक हुई। खासतौर पर बीते साल इंग्लैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप मुकाबले में। लेकिन उनमें अभी भी टैलेंट है।

धोनी अगर अच्छा खेलेंगे तो उनके पास टीम में चुने जाने का मौका: हुसैन 

सुनील गावस्कर, कपिल देव जैसे कई पूर्व दिग्गज यह बात कह चुके हैं कि इतने लंबे ब्रेक के बाद धोनी के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी आसान नहीं होगी। लेकिन 1999 से 2003 तक इंग्लैंड के कप्तान रहे हुसैन अलग राय रखते हैं। उनका कहना है कि अगर वह अच्छा क्रिकेट खेलेंगे तो उनकी टीम में जगह होगी। यह हर खिलाड़ी पर लागू होता है। उन्होंने आगे कहा कि  सिर्फ धोनी को ही अपनी मानसिक स्थिति के बारे में पता है और आखिर में सिलेक्टर्स को ही उन्हें चुनना है।  

‘धोनी की टीम इंडिया मेें वापसी आईपीएल में प्रदर्शन के आधार होगी’
धोनी ने जुलाई में वनडे वर्ल्ड कप में आखिरी मैच खेला था। इस मैच में न्यूजीलैंड से हार मिली थी। इसके बाद से ही धोनी टीम से बाहर चल रहे हैं। इस साल की शुरुआत में बीसीसीआई ने भी उन्हें अपनी सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट से बाहर कर दिया। तभी से उनके संन्यास की अटकलें लग रही हैं। वहीं, पूर्व भारतीय कप्तान की वापसी का इकलौता जरिया माने जा रहे आईपीएल पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं। बीसीसीआई पहले ही इसे 15 अप्रैल तक के लिए टाल चुका है। मौजूदा हालात में इसके होने की उम्मीद भी कम है। क्योंकि देश में लॉकडाउन की मियाद बढ़ने की पूरी उम्मीद है। टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री के अलावा कई पूर्व क्रिकेटर भी यह कह चुके हैं कि धोनी की टीम इंडिया में वापसी आईपीएल में उनके प्रदर्शन पर ही निर्भर करेगी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सितंबर तिमाही में अपैरल बिक्री कमजोर, औसत रेवेन्यू भी 45-55% नीचे फिसला

Hindi NewsBusinessFashion Retailers And Coronavirus (COVID 19) IMPACT; Average Revenue Also Slipped 45 55 Percentनई दिल्ली4 घंटे पहलेकॉपी लिंकऑनलाइन सेल में पेपे जींस की...

चाकूबाजी में घायल मालवी ने कंगना रनोट से कहा- मैं भी आपके शहर मंडी से हूं मेरी मदद कीजिए

एक घंटा पहलेकॉपी लिंकटीवी एक्ट्रेस मालवी मल्होत्रा पर चाकू से जानलेवा हमला हुआ। वे कोकिलाबेन हॉस्पिटल में एडमिट हैं। घायल मालवी ने मीडिया से...

चाफेकर बंधुओं के बलिदान की घटना पर वीर सावरकर ने लिखा था पोवाड़ा; इस तरह की रचना वालों को शाहिर कहते हैं

Hindi NewsLocalMpBhopalVeer Savarkar Wrote Powara On The Incident Of The Sacrifice Of The Chafekar Brothers; People With This Type Of Creation Are Called Shahirभोपालएक...