Home खेल कुंबले बोले- फर्स्ट टेस्ट जीतो; द्रविड़ ने कहा- किसी एक बल्लेबाज को...

कुंबले बोले- फर्स्ट टेस्ट जीतो; द्रविड़ ने कहा- किसी एक बल्लेबाज को सीरीज में 500+रन बनाना बेहद जरूरी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

नई दिल्ली22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

नेशनल क्रिकेट अकेडमी के डायरेक्टर राहुल द्रविड़ ने वेबिनार पर इंडिया और ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज को लेकर अपने विचार रखे। (फाइल)

टीम इंडिया के पूर्व कोच अनिल कुंबले और पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया के साथ चार टेस्ट मैचों की सीरीज जीतने के लिए इंडिया को एडिलेड में खेले जाने वाले पहले डे नाइट टेस्ट मैच में बेहतर शुरुआत करनी होगी। अगर वे पहले टेस्ट में बेहतर शुरुआत कर सकेंगे तो वह एक बार फिर सीरीज जीतने का कारनामा कर सकेंगे। इंडिया ने 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया को उसी घर में टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराया था। इसके साथ ही टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में हराने वाली पहली एशियन कंट्री बनी थी। कुंबले और द्रविड़ ने वेबिनार पर आयोजित कार्यक्रम में इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट सीरीज को लेकर बातचीत की और टीम इंडिया को जीतने के लिए क्या करना होगा उसके बारे में बताया।

द्रविड़ का मानना है कि उन्हें ऐसे बल्लेबाज की जरूरत होगी जो 500 से ज्यादा रन सीरीज में बना सके। द्रविड़ ने कहा”हमारा”पुजारा कौन होगा’जो इस टारगेट को पूरा सके। मैं ऐसा इसलिए कह रहा हूं क्योंकि पुजारा ने पिछली बार 2018-19 में 500 से ज्यादा रन(521) बनाए थे। और हमें इस बार भी ऐसे बल्लेबाज की जरूरत होगी। पुजारा या अन्य किसी बल्लेबाज को ऐसा करना होगा। क्योंकि कोहली ऐसा नहीं कर सकते हैं। वे तीन टेस्ट मैच नहीं खेलेंगे। मेरे विचार से ऐसे बल्लेबाज की जरूरत होगी जो चार टेस्ट मैचों में 500 से ज्यादा रन बना सके। हमारे पास ऐसे गेंदबाज हैं जो 20 से ज्यादा विकेट ले सकते हैं।”

पिंक बॉल से टीम इंडिया के लिए चुनौती

कुंबले ने कहा,’टीम इंडिया को टेस्ट सीरीज की शुरुआत पिंक बॉल से करनी होगी। जो टीम के लिए चुनौती होगी। अगर इंडिया पहले टेस्ट में बढ़त ले लेती है, तो टीम के पास ऑस्ट्रेलिया में लगातार दूसरी सीरीज जीतने का मौका होगा। हालांकि इस बार हालात पिछले दौरे से अलग है। पिछली बार बॉल टेम्परिंग की वजह से प्रतिबंध लगने के कारण स्मिथ (स्टीव) और वॉर्नर (डेविड) नहीं खेल रहे थे। लेकिन इस बार वे दोनों टीम में शामिल हैं। वहीं दूसरी ओर कप्तान विराट कोहली तीन टेस्ट मैचों में नहीं होंगे। जिसका प्रभाव टीम पर पड़ेगा। उसके बावजूद भी टीम इंडिया अच्छी बॉलिंग और बैटिंग करने में सक्षम है। और सीरीज को भी जीतने की काबिलियत रखती है। ”

ऑस्ट्रेलिया पिंक बॉल से खेलने में माहिर

उन्होंने आगे कहा कि इंडिया के लिए पहला टेस्ट इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि ऑस्ट्रेलिया पिंक बॉल और रेड कूकाबूरा बॉल से खेलने में माहिर है। वहीं टीम इंडिया अपनी धरती के बाहर पहला डे नाइट टेस्ट मैच एडिलेड में खेलेगा। ऑस्ट्रेलिया की तरह गेंदबाजी और बैटिंग में सामान हैं। हालांकि पहले टेस्ट के बाद विराट के बिना इंडिया के लिए थोड़ी चुनौती होगी।

एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया का दबदबा

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टेस्ट मैच एडिलेड में 17 दिसंबर को खेला जाएगा। यहां पर ऑस्ट्रेलिया ने 20 मैच खेले हैं। इनमें से 14 मैचों में उसे जीत मिली है। हालांकि 2003 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराया था। द्रविड़ ने इस मैच की पहली पारी में 233 और दूसरी पारी में 72 रन बनाए थे। वहीं 2018-19 में टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने पहले मैच में इंडिया को 31 रन से हराया था।

Source link

Most Popular

फास्टैग के जरिए 80 करोड़ रुपए प्रतिदिन के पार पहुंचा रेवेन्यू, हर रोज 50 लाख से ज्यादा ट्रांजेक्शन

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपनई दिल्ली25 दिन पहलेकॉपी लिंकफास्टैग रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) तकनीक पर काम...

शाहरुख की 'पठान' में दिखेगा सलमान का एक्शन पैक्ड अवतार, फिल्म के क्लाइमैक्स शुरु होगी 'टाइगर 3' की कहानी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेशाहरुख खान के फैन्स बेसब्री से बड़े पर्दे पर...

पाेल्ट्री फार्माें की सुरक्षा काे लेकर बैठक आज

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपदेवास9 दिन पहलेकॉपी लिंकजिले में पक्षियों के मरने का क्रम निरंतर...

A Wrinkle in Time isn’t for cynics — or adults

A Wrinkle in Time isn’t for cynics — or adultsA Wrinkle in Time isn’t for cynics — or adultsA Wrinkle in Time isn’t for...