Home खेल बैन को लेकर पृथ्वी शॉ ने कहा-मेरे लिए खेल से दूर रहना...

बैन को लेकर पृथ्वी शॉ ने कहा-मेरे लिए खेल से दूर रहना टॉर्चर से कम नहीं था, आलोचकों को बल्ले से जवाब देना चाहता हूं

  • इस बल्लेबाज ने डोपिंग को लेकर कहा- अब मैं कोई भी दवा खाने से पहले बोर्ड के डॉक्टर से सलाह लेता हूं
  • पृथ्वी शॉ पर पिछले साल डोपिंग के कारण 8 महीने का बैन लगा था, उन्होंने इसी साल न्यूजीलैंड दौरे से वापसी की
  • शॉ ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 टेस्ट की 4 पारियों में 98 रन और 3 वनडे में सिर्फ 84 रन बनाए थे

हलचल टुडे

Apr 09, 2020, 02:40 PM IST

भारत के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू अपने ऊपर लगे 8 महीने के बैन को लेकर कहा कि खेल से दूर रहना मेरे लिए किसी टॉर्चर से कम नहीं था। ऐसा किसी और के साथ नहीं होना चाहिए। शॉ ने कहा कि आप क्या दवा खा रहे हैं, इसे लेकर बहुत सतर्क रहने की जरूरत है। मेरे मामले में ही देखें, मैंने कफ सिरप ली थी, मुझे यह नहीं पता था कि इसमें प्रतिबंधित पदार्थ है। मैंने अपनी गलती से सीखा और इसे फिर कभी नहीं दोहराऊंगा। वहीं, उन्होंने आलोचकों के लिए कहा कि मैं सबको खुश नहीं रख सकता। बस बल्ले से जवाब देना चाहता हूं। 
उन्होंने डोपिंग को लेकर कहा कि मैं अब कोई भी दवा खाने से पहले बीसीसीआई के डॉक्टर से बात करता हूं। ताकि यह पता रहे कि जो दवाई खा रहा हूं उसमें कोई प्रतिबंधित पदार्थ तो नहीं। इस बल्लेबाज पर पिछले साल जुलाई में डोपिंग के कारण 8 महीने का बैन लगा था। उन्होंने इस साल की शुरुआत में न्यूजीलैंड दौरे से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 टेस्ट की 4 पारियों में सिर्फ 98 रन बनाए थे। इस दौरान वे 1 बार ही 50 रन का आंकड़ा पार कर पाए। वनडे में भी उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था। शॉ ने 3 वनडे में 84 रन बनाए थे। 

शॉ ने कहा- मुश्किल वक्त में परिवार दोस्तों से मिली मदद का शुक्रगुजार

इस इंटरव्यू में इस सलामी बल्लेबाज ने करियर की शुरुआत में मिली सफलता के खुद पर हावी होने से जु़ड़े सवाल पर कहा कि हां अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतना और टेस्ट डेब्यू में शतक लगाना मेरे लिए बड़ी बात थी। लेकिन मुझे नहीं लगता कि यह मेरे ऊपर हावी हो गए थे। डोपिंग बैन जैसी चीजें मेरे नियंत्रण में थी, लेकिन चोटिल होना (2018 में एड़ी में लगी चोट) मेरे हाथ में नहीं था। अपने आलोचकों को जवाब देते हुए उन्होंने कहा- मैंने महसूस किया कि आप सभी को खुश नहीं रख सकते। हालांकि, मैं जनता हूं कि आलोचक भी जिंदगी का हिस्सा होते हैं। मैं उन्हें सकारात्मक रुप से लेकर खुद में सुधार की कोशिश करता हूं। बीता साल उतना अच्छा नहीं था। मैं हर चीज का जवाब अपने बल्ले से देना चाहता हूं। मुश्किल वक्त में आदमी की असली परीक्षा होती है। मैं इस बात का शुक्रगुजार हूं कि मेरे पास पिता, करीबी दोस्त और मैनेजमेंट एजेंसी है, जो कठिन समय में मेरे साथ खड़ी थी। 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

हार्दिक पंड्या ने राजस्थान के खिलाफ मैच में घुटने टेक कर समर्थन किया

एक घंटा पहलेकॉपी लिंक हार्दिक पंड्या ने राजस्थान के खिलाफ मैच में 21 गेंद पर 60 रन बनाए। उन्होंने फिफ्टी पूरा करने के बाद ब्लैक...

मेष-वृष राशि के लिए सोमवार रहेगा शुभ, मिथुन-सिंह राशि के लोगों को मेहनत अधिक करना होगी

Hindi NewsJeevan mantraJyotishTarot Rashifal For Monday, Somwar Ka Rashifal, 26 October Rashifal, Monday Will Be Auspicious For Aries Taurus, People Of Gemini Leo Zodiac...

पाकिस्तानी पीएम ने लिखा- फेसबुक पर इस्लामोफोबिक कंटेंट को रोकें, इससे दुनिया में कट्टरता बढ़ रही

इस्लामाबाद21 मिनट पहलेकॉपी लिंकइमरान का यह लेटर फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों की टिप्पणी के बाद आया है। पेरिस में एक टीचर की सिर...

सेंसेक्स में 87 और निफ्टी में 26 अंकों से ज्यादा की गिरावट, मेटल शेयरों में भी बिकवाली, जेएसडब्ल्यू स्टील का शेयर 3% नीचे

Hindi NewsBusinessBSE NSE Sensex Today | Stock Market Latest Update: October 26 Share Market, Trade BSE, Nifty, Sensex Live News Updatesमुंबई3 मिनट पहलेकॉपी लिंकबीएसई...