Home खेल लॉकडाउन बढ़ा तो पीसीबी खिलाड़ियों की सैलरी में कटौती कर सकती है,...

लॉकडाउन बढ़ा तो पीसीबी खिलाड़ियों की सैलरी में कटौती कर सकती है, टेस्ट कप्तान ने कहा- हम मानसिक रूप से तैयार

  • पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने पिछले साल सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल खिलाड़ियों की संख्या 33 से घटाकर 19 की थी
  • केंद्रीय अनुबंध में शामिल प्लेयर्स को हर महीने 3 से 12 लाख रुपए वेतन मिलता है, बोर्ड ने जून तक सैलरी देने की बात कही
  • टेस्ट कप्तान अजहर अली ने कहा- खाली स्टेडियम में मैच भी एक विकल्प, लेकिन लोगों का स्वास्थ्य प्राथमिकता

हलचल टुडे

Apr 11, 2020, 05:22 PM IST

खेल डेस्क. पाकिस्तान की टेस्ट टीम के कप्तान अजहर अली ने शनिवार को कहा कि कोरोनावायरस की वजह से अगर लॉकडाउन बढ़ता है तो पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड खिलाड़ियों के वेतन में कटौती कर सकता है। हम मानसिक रूप से इसके लिए तैयार हैं। हम जानते हैं कि मौजूदा हालात में बोर्ड हमें पुराने या नए सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में कटौती के लिए पूछ सकता है। हम पीसीबी के साथ बैठकर सही फैसला करेंगे। उन्होंने पाकिस्तानी मीडिया से वीडियो कॉल के दौरान यह बात कही। 
पीसीबी ने अब तक कहा है कि वह सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल सभी खिलाड़ियों को वेतन देगा। इसके अलावा बोर्ड के साथ जिन घरेलू क्रिकेटरों का अनुबंध जून तक है, उन्हें भी उस महीने तक पूरी तनख्वाह मिलेगी। हालांकि, बोर्ड ने साफ कर दिया है कि जून के बाद क्या हालात होंगे, इसका उसे पता नहीं है। पीसीबी ने पिछले साल सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल खिलाड़ियों की संख्या 33 से घटाकर 19 कर दी थी। अनुबंध 1 अगस्त 2019 से 30 जून 2020 तक है।

ग्रेड-ए में बाबर आजम समेत 3 खिलाड़ी
बोर्ड ने ए-ग्रेड में सिर्फ तीन खिलाड़ियों को रखा है। इसमें बाबर आजम, सरफराज अहमद और यासिर शाह शामिल हैं। ग्रेड-बी में टेस्ट टीम के कप्तान अजहर अली समेत 8 खिलाड़ी शामिल हैं, जबकि हसन अली और मोहम्मद आमिर को ग्रेड-सी में रखा गया है। इस कैटेगरी में कुल 8 खिलाड़ी हैं। सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल खिलाड़ियों को हर महीने 3 से लेकर 12 लाख तक का वेतन मिलता है। 

खिलाड़ी महीनों तक घर पर नहीं बैठ सकते: अजहर अली
पाकिस्तान के लिए 78 टेस्ट खेल चुके अली ने कहा कि क्रिकेट खेलने वाले देश और खिलाड़ी महीनों तक घर पर नहीं बैठ सकते। उन्होंने आगे कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि फैंस टीवी पर भी मैच नहीं देख पा रहे हैं। अगर खाली स्टेडियम में क्रिकेट होता है तो कम से कम दर्शकों पास घर बैठकर तो देखने का मौका होगा। लेकिन यह तभी संभव है जब सभी पक्षों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए सभी जरूरी इंतजाम हों।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular