Home टेक & ऑटो नए साल से ज्यादा सुरक्षित हो जाएगा फेसबुक, पढ़िए क्या है कंपनी...

नए साल से ज्यादा सुरक्षित हो जाएगा फेसबुक, पढ़िए क्या है कंपनी की योजना

  • Hindi News
  • Tech auto
  • Facebook To Add More Account Security Features Next Year, Read What Is The Company’s Plan

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • पहचान वैरिफाई करने के लिए फिजिकल-सिक्योरिटी-की स्थापित की जा सकेगी
  • फेसबुक ने कहा है कि यूजर्स रिटेलर से एक हार्डवेयर-की खरीद सकते हैं

नए साल में फेसबुक अपने प्लेटफॉर्म पर कई एडवांस्ड सेफ्टी फीचर्स जोड़ने जा रही है। फेसबुक ने मंगलवार को कहा कि वह यूजर्स को अगले साल से शुरू होने वाले सोशल नेटवर्क के मोबाइल ऐप में लॉग इन करने से पहले उनकी पहचान को सत्यापित करने के लिए फिजिकल सिक्योरिटी की स्थापित करने की अनुमति देगा।

कंपनी वर्तमान में प्रत्येक लॉग इन से पहले डेस्कटॉप कंप्यूटर से कनेक्ट करने के लिए ‘हार्डवेयर सिक्योरिटी की’ की आवश्यकता का विकल्प प्रदान करती है।

रिटेल के खरीद सकेंगे हार्डवेयर-की

  • एक्सियोस साइट ने अपनी रिपोर्ट में कहा- फेसबुक ने कहा है कि यूजर्स रिटेलर से एक हार्डवेयर-की खरीद सकते हैं, और इसे फेसबुक के साथ रजिस्टर्ड कर सकते हैं।
  • उन्होंने आगे कहा कि अगले साल विश्व स्तर पर अधिक अकाउंट्स (जिसमें चुनाव उम्मीदवारों सहित हाई-प्रोफाइल अकाउंट्स शामिल हैं) के लिए फेसबुक प्रोटेक्ट (कंपनी का सिक्योरिटी प्रोग्राम) का विस्तार करने की भी योजना है।

ओप्पो ने शुरू की 5G इनोवेशन लैब, इससे देश का ईकोसिस्टम मजबूत होगा; 3 नई लैब लगाने का प्लान भी बताया

जुलाई कर मिल सकती है सुविधा
नई सिक्योरिटी सर्विसेस का रोलआउट जुलाई में किया जाएगा, जो हैक ऑफ पीयर सोशल नेटवर्क ट्विटर इंक का अनुसरण करता है, जिसमें कई सेलिब्रिटी अकाउंट्स से समझौता किया गया, जिनमें राष्ट्रपति-चुनाव जो बिडेन और टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एलन मस्क शामिल हैं।

एपल ने 2024 तक कार उत्पादन का लक्ष्य रखा है, इसमें खुद की बनाई बैटरी तकनीक का इस्तेमाल करेगी कंपनी

वर्तमान में अमेरिका में उपलब्ध

  • वर्तमान में संयुक्त राज्य अमेरिका में उपलब्ध है, फेसबुक प्रोटेक्ट राजनेताओं, सरकारी एजेंसियों और चुनाव कर्मचारियों के लिए अतिरिक्त सुरक्षा प्रावधानों को स्थापित करने का एक तरीका प्रदान करता है, जैसे कि टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन और संभावित हैकिंग खतरों के लिए रियल टाइम मॉनिटरिंग प्रदान करता है।
  • फेसबुक ने आगे बताया कि- यह अब पत्रकारों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं जैसे यूजर्स के लिए उपलब्ध होगा जिन्हें हैकर्स द्वारा टार्गेट किए जाने का अधिक खतरा है।

Source link

Most Popular

हाउसिंग फाइनेंस बिजनेस से बाहर निकलेगा सेंट्रल बैंक, 160 करोड़ में बेचेगा हिस्सेदारी

Hindi NewsBusinessCentral Bank To Exit Housing Finance Business, Will Sell Stake In 160 CroresAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें...

उड़ता पंजाब, चरस से लेकर हरे रामा हरे कृष्णा तक, ड्रग एडिक्शन और नशे पर बनी हैं ये पॉपुलर बॉलीवुड फिल्में

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेकॉपी लिंकसुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से...

हर पॉइंट पर 25 हेल्थ वर्कर होंगे, ड्रग कंट्रोलर जनरल बोले- उम्मीद है नया साल हैप्पी होगा

Hindi NewsNationalCoronavirus Vaccine Dry Run On 2nd January 2020; Updates From Health MinistryAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल...