Home दुनिया एयरलाइंस से जुड़ीं चीनी-अमेरिकी एजेंसियों का दावा, कोरोना फैलने की शुरुआत में चीन...

एयरलाइंस से जुड़ीं चीनी-अमेरिकी एजेंसियों का दावा, कोरोना फैलने की शुरुआत में चीन से 4.30 लाख लोग अमेरिका पहुंचे

  • ये एजेंसियां चीन और अमेरिका में कार्यरत हैं। इनके मुताबिक यात्रा प्रतिबंध के पहले ये उड़ानें अमेरिका के 17 राज्यों में पहुंची थीं
  •  चीन ने 31 दिसंबर 2019 को अपने यहां कोरोना के होने का खुलासा किया था

हलचल टुडे

Apr 06, 2020, 03:55 PM IST

वॉशिंगटन. (स्टीव एडर/हेनरी फाउंटेन) कोरोनावायरस फैलने के शुरुआती दिनों में चीन से 1300 सीधी उड़ानों में करीब  4.30 लाख लोग अमेरिका पहुंचे थे। इनमें से 40 हजार लोग अमेरिका में आगे भी यात्रा करते रहे। वारि फ्लाइट, माई राडार व फ्लाइट अवेयर और अन्य एजेंसियों से मिले इनपुट में यह दावा किया गया है। ये एजेंसियां चीन और अमेरिका में कार्यरत हैं। इनके मुताबिक यात्रा प्रतिबंध के पहले ये उड़ानें अमेरिका के 17 राज्यों में पहुंची थीं। चीन ने 31 दिसंबर 2019 को अपने यहां कोरोना के होने का खुलासा किया था।

इसके बावजूद अमेरिका में जनवरी के शुरू में अधिकारी कोरोना की गंभीरता को कम आंक रहे थे। वे एयरपोर्ट पर यात्रियों की जांच में सख्ती नहीं दिखा रहे थे। यात्रियों की स्क्रीनिंग जनवरी के मध्य में शुरू की। उसमें भी सिर्फ वुहान से लॉस एंजिल्स, सैन फ्रांसिस्को और न्यूयॉर्क के एयरपोर्ट पर आए विमानों के यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई। चीन की विमानन डेटा कंपनी वारीफ्लाइट ने भी कहा कि उस दौर में भी करीब 4 हजार लोग वुहान से सीधे अमेरिका पहुंचे।

ऐसा था रूट: 3.81 लाख यात्री सीधे चीन से आए, अन्य वहां से होते हुए पहुंचे  

  • इंटरनेशनल ट्रेड एडमिनिस्ट्रेशन के मुताबिक 3.81 लाख लोग चीन से सीधे अमेरिका आए थे। इनमें से एक चौथाई अमेरिकी थे। अन्य लोग अन्य देशों से चीन होते हुए अमेरिका पहुंचे थे। होमलैंड विभाग की प्रवक्ता सोफिया बोजा ने कहा कि अन्य देशों के आए यात्री 25% हो सकते हैं।
  • 10 मार्च को एंड्रयू वू (31) को बीजिंग से सीधी उड़ान से लॉस एंजिल्स इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचे थे। एंड्रयू कहते हैं- मैं हैरान था कि एयरपोर्ट पर जांच की प्रक्रिया बेहद ढीली थी। मैंने अधिकारियों से ठीक से जांच करने का निवेदन भी किया, लेकिन उन्होंने ज्यादा गंभीरता नहीं दिखाई।
  • 23 मार्च को सबरीना फिच (23) चीन से न्यूयॉर्क पहुंचीं। सबरीना ने कहा कि एयरपोर्ट पर उनकी और करीब 40 अन्य लोगों का तापमान दो बार जांचा गया। उसके बाद उनसे एक फॉर्म में उनके स्वास्थ्य की जानकारी भराई गई। सिर्फ हमारा पासपोर्ट देखा गया। अन्य सवाल नहीं पूछा।

तैयारी: विदेशों में फंसे 22 हजार अमेरिकी स्वदेश लाए जाएंगे

अमेरिका कोरोना के कारण भारत समेत अन्य देशों में फंसे 22 हजार नागरिकों को एयरलिफ्ट करेगा। दूतावास संबंधित मामलों के प्रधान उप सहायक मंत्री इयान ब्राउनली ने मीडिया को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कई नागरिक भारत समेत एशिया में हैं। इनके लिए 70 उड़ानें तय की गई हैं। द. एशिया से एक हजार नागरिक अमेरिका लौट सके हैं। 

न्यूयॉर्क: गवर्नर की चेतावनी- सात दिनों में चरम पर पहुंच जाएगा खतरा
न्यूयॉर्क राज्य में कोरोना से एक दिन में 630 लोगों की मौत हुई है। गवर्नर एंड्र्यू क्यूमो ने चेतावनी दी है कि सात दिनों में राज्य में प्रकोप चरम पर पहुंच सकता है। राज्य में पहली बार 2-3 को सबसे ज्यादा 550 से ज्यादा मौतें हुई थीं। अब तक 1,14,775 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि 3,565 मौतें हुईं। अकेले न्यूयॉर्क सिटी में  63,306 मामले हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

मुंगेर में भीड़ ने नहीं, पुलिस ने फायरिंग की शुरुआत की थी; CISF की इंटरनल रिपोर्ट से खुलासा

Hindi NewsNationalThe Firing Was Started By The Police, Not The Mob, In Munger; Revealed By CISF's Internal Reportपटना5 घंटे पहलेलेखक: अमित जायसवालकॉपी लिंकमुंगेर में...

वरुण ने दूसरी बार धोनी को बोल्ड किया, CSK सबसे ज्यादा 6 बार आखिरी बॉल पर मैच जीतने वाली टीम

दुबई7 मिनट पहलेकॉपी लिंककोलकाता नाइट राइडर्स के वरुण चक्रवर्ती ने सीजन में 2 बार धोनी को बोल्ड किया। मलिंगा के बाद ऐसा करने वाले...

पिछली बार ट्रम्प की जीत का फैक्टर बने थे, अब बाेले-मेरे कारण ट्रम्प जीते तो दुख होगा

19 घंटे पहलेट्रम्प या बाइडेन दोनों में से कोई भी राष्ट्रपति बने, जनता की समस्याएं नहीं सुलझेंगी : होवीअमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए...

च्वॉइस को कंट्रोल कर क्या गूगल यूजर्स के मौलिक अधिकारों का हनन नहीं कर रही? संसदीय समिति ने किया सवाल

Hindi NewsBusinessIs Google Not Infringing On The Fundamental Rights Of Users By Controlling Choice Parliamentary Committee Questionedनई दिल्ली2 घंटे पहलेकॉपी लिंकभाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी...