Home दुनिया चीन एशिया में सैन्य-आर्थिक रूप से बड़ा खतरा, वो ट्रेड का कोई...

चीन एशिया में सैन्य-आर्थिक रूप से बड़ा खतरा, वो ट्रेड का कोई नियम नहीं मानता

  • Hindi News
  • International
  • US China | US Commerce Minister Biller Ross Warning; China Is Military Economically Threat In Asia

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

सिंगापुर9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अमेरिका के कॉमर्स सेक्रेटरी बिलवर रोस ने एशियाई देशों को चीन के प्रति आगाह किया। रोस के मुताबिक, अमेरिका ने चीन के खिलाफ जो कार्रवाई की है, वो सही है। ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन ने चीन की कई कंपनियों पर प्रतिबंध लगाए हैं। (फाइल)

अमेरिका के वाणिज्य मंत्री बिलवर रोस के मुताबिक, चीन एशिया के लिए सैन्य और आर्थिक तौर पर सबसे बड़ा खतरा है। रोस ने कहा कि चीन ऐसा देश है जो ट्रेड में किसी भी अंतरराष्ट्रीय नियम को मानने तैयार नहीं है। रोस ने यह बातें मंगलवार को सिंगापुर के मिल्केन इंस्टीट्यूट में एशिया समिट के दौरान कहीं।

अमेरिका ने सही कार्रवाई की
ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन के दौरान अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर काफी तेज रहा। रोस ने भी इसका जिक्र किया। कहा- ड्यूटी ऑर्डर्स की जहां तक बात है तो चीन ने 210 बार नियम तोड़े। इसका उसको फायदा हुआ और अमेरिका को नुकसान। इसके बाद हमने चीनी कंपनियों को लेकर सख्त रुख अपनाया। अमेरिका को अपनी नेशनल सिक्योरिटी पर फोकस करना है। रोस ने एंटी डम्पिंग ड्यूटी का जिक्र भी किया। उनके मुताबिक, चीन ने गैर कानूनी तौर पर अपने प्रोडक्ट्स की कीमतें कम कीं और उन्हें अंतरराष्ट्रीय बाजार में बेचा।

चीन सुधरने वाला नहीं
समिट के दौरान रोस ने एशियाई देशों को खासतौर पर अलर्ट किया। कहा- हम साफ तौर पर देख सकते हैं कि चीन एशियाई देशों के लिए आर्थिक और सैन्य रूप से सबसे बड़ा खतरा है। उसने इस क्षेत्र के 14 देशों के साथ कारोबारी समझौते किए हैं, लेकिन इससे संवेदनशील मामले हल नहीं होंगे।

रोस ने कहा- सबसे जरूरी बात बात यह है कि हम यानी दुनिया के देश फ्री और फेयर ट्रेड पर फोकस करें। इस दौरान हमें अपनी नेशनल सिक्योरिटी और आर्थिक हितों को ध्यान में रखना होगा और इसमें कोई बुराई नहीं है।

अमेरिका और चीन का ट्रेड वॉर जारी
ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन के दौरान अमेरिका और चीन के आर्थिक रिश्ते बेहद खराब दौर से गुजर रहे हैं। अमेरिका ने हाल ही में चीन की कई कंपनियों के अमेरिका में कारोबार पर रोक लगा दी। अमेरिका ने आरोप लगाया कि ये कंपनियां कहीं न कहीं चीन की सेना को मदद पहुंचाती हैं। इनके कारोबारी तरीकों से दुनिया की अर्थ व्यवस्था को खतरा पैदा हो गया है।

Source link

Most Popular

हाउसिंग फाइनेंस बिजनेस से बाहर निकलेगा सेंट्रल बैंक, 160 करोड़ में बेचेगा हिस्सेदारी

Hindi NewsBusinessCentral Bank To Exit Housing Finance Business, Will Sell Stake In 160 CroresAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें...

उड़ता पंजाब, चरस से लेकर हरे रामा हरे कृष्णा तक, ड्रग एडिक्शन और नशे पर बनी हैं ये पॉपुलर बॉलीवुड फिल्में

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेकॉपी लिंकसुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से...