Home दुनिया पहली मौत 9 जनवरी को हुई थी, 70 दिनों में आंकड़ा 10...

पहली मौत 9 जनवरी को हुई थी, 70 दिनों में आंकड़ा 10 हजार पहुंचा; पिछले 22 दिनों में 90 हजार लोग मारे गए

  • कोरोना से 75% मौतें इटली, अमेरिका, स्पेन, फ्रांस और ब्रिटेन में हुईं, कुल मामलों का 60% हिस्सा भी इन्हीं पांच देशों का
  • इटली और स्पेन में हर दिन हो रही मौतों की संख्या में ठहराव आया; अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस में रोजाना करीब हजार लोग मर रहे
  • भारत में पिछले 6 दिनों में मामले दोगुने हो गए, हर दिन 500 से ज्यादा नए मामले आ रहे; 6 दिनों में मौतों की संख्या भी तीन गुना हो गई

हलचल टुडे

Apr 11, 2020, 12:23 PM IST

नई दिल्ली. चीन के वुहान शहर में 9 जनवरी की शाम को 61 साल के बुजुर्ग की कोरोनावायरस से मौत हुई थी। चीन के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, यह कोरोनावायरस से हुई पहली मौत थी। ठीक 92 दिन बाद दुनियाभर में इस वायरस से मौत का आंकड़ा एक लाख पार कर गया। 19 मार्च को कोरोना संक्रमितों की मौतों का आंकड़ा 10 हजार पहुंचा था, लेकिन अगले 22 दिनों में कुल 90 हजार लोग मारे गए। 1 लाख मौतों के अलावा दुनियाभर में 12 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं, जो या तो इंटेसिंव केयर, हॉस्पिटल या होम क्वारैंटाइन हैं। 3.75 लाख मरीज इस महामारी से ठीक भी हो चुके हैं। 

एक रिपोर्ट में चीनी दस्तावेजों के मुताबिक, कोरोना का पहला मामला 17 नवंबर को आया 
साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट की एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि चीन सरकार के डॉक्यूमेंट्स के मुताबिक, हुबेई प्रांत के 55 साल के एक बुजुर्ग कोरोना के सबसे पहले संक्रमित हो सकते हैं। दस्तावेजों के मुताबिक, वे 17 नवंबर को 2019 को कोरोनावायरस के संपर्क में आए थे (डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, चीन में कोरोना का पहला मामला 8 दिसंबर को पाया गया)। इसी रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि इसी दिन के बाद से हर दिन 1 से 5 मामले सामने आए। 20 दिसंबर तक ऐसे कुल 60 मामले थे, जिनके लक्षण कुछ निमोनिया की बुखार जैसे थे लेकिन असल में इस बीमारी का कारण समझ नहीं आ रहा था। हालांकि, चीन सरकार के घोषित आंकड़ों में इस समय तक कोरोना केस से जुड़े मामलों की संख्या दहाई तक भी नहीं बताई जा रही थी। 

20 जनवरी तक 4 देशों में कोरोना के कुल 282 मामले थे, 80 दिनों में यह 17 लाख हो गए
31 दिसंबर को चीन ने डब्ल्यूएचओ को इस अजीबोगरीब बीमारी के बारे में जानकारी दी थी। 7 जनवरी को चीन ने कोरोनावायरस की पहचान भी कर ली। चीन के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, 11 जनवरी तक कोरोना संक्रमितों की संख्या 41 थी। इसके बाद चीन के बाहर पहली बार 13 जनवरी को थाईलैंड में इस वायरस से संक्रमण का पहला मामला सामने आया और फिर 15 जनवरी को जापान इस वायरस की पहुंच वाला तीसरा देश बना। 20 जनवरी तक यह वायरस 4 देशों में पहुंच चुका था। इस दिन तक चीन में 278, थाईलैंड में 2 और जापान व दक्षिण कोरिया में 1-1 केस थे। 20 जनवरी के बाद इस वायरस ने ऐसी रफ्तार पकड़ी कि 80 दिनों में यह दुनियाभर के 210 देशों में पहुंच गया और इससे 17 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो गए।

75% मौतें पांच देशों में हुईं 
चीन के वुहान से शुरू हुई इस महामारी से अब तक 150 से ज्यादा देशों में मौतें हो चुकी हैं। करीब 50 देशों में इससे मरने वालों की संख्या इकाई के अंकों में हैं और करीब इतने ही देशों में मौतों का आंकड़ा दहाई के अंकों में हैं। कुल 10 देश ऐसे हैं, जहां 2 हजार से लेकर 19 हजार तक मौतें हो चुकी हैं। इन्हीं 10 देशों में 90 हजार मौतें हुई हैं यानी कुल मौतों का 90% इन्हीं देशों में हुआ। वहीं 75% मौतें सिर्फ 5 देशों में हुई हैं। इन पांच देशों में चीन शामिल नहीं है। मौतों के लिहाज से चीन का नम्बर सातवां हैं।

तारीख

इटली में कुल मौतें

अमेरिका में कुल मौतें

स्पेन में कुल मौतें

फ्रांस में कुल मौतें

ब्रिटेन में कुल मौतें

29 फरवरी तक

29

1 0 2 0

7 मार्च तक

233 19 10 16 2

14 मार्च तक

1,441 57 196 91 21

21 मार्च तक

4,825 301 1,381 562 233

28 मार्च तक

10 हजार 2,222 5,982 2,314 1,019

4 अप्रैल तक

15 हजार 8,457 11 हजार 7,560 4,313
11 अप्रैल तक 18 हजार+ 18 हजार+ 16 हजार+ 13 हजार+ 9 हजार+

इन पांच के अलावा ईरान में अब तक 4 हजार, चीन और बेल्जियम में 3-3 हजार और जर्मनी और नीदरलैंड्स में ढाई-ढाई हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं।

कुल मामलों का 90% हिस्सा 10 देशों में

जिन पांच देशों में कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा मौतें हुईं, उन्हीं देशो में दुनियाभर के कुल कोरोना संक्रमितों का 60% (10 लाख+ ) हिस्सा है। अगर इनमें 2 हजार से ज्यादा मौतों वाले 5 अन्य देश भी जोड़ लिए जाएं तो इन 10 देशों में कुल कोरोना संक्रमितों का 90% (13.5 लाख+) हिस्सा हो जाता है।

तारीख इटली में कुल मामले अमेरिका में कुल मामले स्पेन में कुल मामले फ्रांस में कुल मामले ब्रिटेन में कुल मामले
15 फरवरी तक 3 15 2 12 9
22 फरवरी तक 79 35 2 12 9
29 फरवरी तक 1,128 68 58 100 23
7 मार्च तक 5,883 435 525 949 209
14 मार्च तक 21 हजार 2,770 6,391 4,499 1,140
21 मार्च तक 53 हजार 24 हजार 25 हजार 14 हजार 5,018
28 मार्च तक 92 हजार 1.24 लाख 73 हजार 37 हजार 17 हजार
4 अप्रैल तक 1.24 लाख 3.13 लाख 1.26 लाख 89 हजार 41 हजार
11 अप्रैल तक 1.47 लाख 5 लाख+ 1.57 लाख+ 1.25 लाख+ 75 हजार+

जर्मनी में 1.20 लाख, चीन में 81 हजार, ईरान में 68 हजार और बेल्जियम, स्विटजरलैंड में 25-25 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित पाए गए।

4 हफ्तों पहले अमेरिका और फ्रांस में रोजाना 8 से 10 कोरोना संक्रमितों की मौत हो रही थी, अब इन देशों में हर दिन हजार से ज्यादा लोग मर रहे

इटली में हर दिन हो रही मौतों में कुछ कमी आई है, स्पेन में भी रोजाना मौतों के इस आंकड़े में ठहराव आया है, लेकिन अमेरिका में चार हफ्ते पहले की तुलना में मौतों की संख्या 200 गुना बढ़ गई है। ब्रिटेन और फ्रांस में भी हर दिन मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इन दोनों देशों में रोजाना 800 से 1400 लोग मारे जा रहे हैं।

तारीख इटली (एक दिन में मौत अमेरिका (एक दिन में मौत) स्पेन (एक दिन में मौत) फ्रांस (एक दिन में मौत) ब्रिटेन (एक दिन में मौत)
7 मार्च 36 5 7
14 मार्च 175 9 63 12 10
21 मार्च 793 46 288 112 56
28 मार्च 889 525 844 319 260
4 अप्रैल 681 1,330 749 1,053 708
9 अप्रैल 610 1783 655 1341 882

ब्रिटेन, फ्रांस और स्पेन में हर दिन इटली के बराबर नए मामले आ रहे, अमेरिका में यह आंकड़ा इन देशों से 8 गुना ज्यादा
इटली और स्पेन में मार्च के तीसरे-चौथे सप्ताह में हर दिन कोरोना संक्रमण के 6 से 7 हजार मामले सामने आ रहे थे, लेकिन अब यहां नए मामलों में कमी आई है। ब्रिटेन और फ्रांस में नए मामले लगातार बढ़ रहे हैं। सबसे ज्यादा बढ़ोतरी अमेरिका में हो रही है। यहां इन चारों देशों की तुलना में हर दिन 8 गुना ज्यादा मामले आ रहे हैं।

तारीख इटली (एक दिन में मामले) अमेरिका (एक दिन में मामले) स्पेन (एक दिन में मामले) फ्रांस (एक दिन में मामले) ब्रिटेन (एक दिन में मामले)
7 मार्च 1,247 116 124 296 45
14 मार्च 3,497 587 1,159 838 342
21 मार्च 6,557 4,825 3,925 1,847 1,035
28 मार्च 5,974 19 हजार 7,516 4,611 2,546
4 अप्रैल 4,805 34 हजार 6,929 7,788 3,735
9 अप्रैल 4,204 32 हजार 5,000 4,882 4,398

भारत में हर दिन 500 से 800 नए मामले सामने आ रहे, रोजाना 10 से ज्यादा लोग मर रहे
भारत में 30 जनवरी को केरल में कोरोना संक्रमण का पहला केस सामने आया था। वहीं, पहली मौत 11 मार्च को कर्नाटक में हुई थी। अब तक यहां कोरोना संक्रमण के 7,600 मामले सामने आ चुके हैं, 261 लोगों की मौत भी हो चुकी है। अन्य देशों की तुलना में भारत में कोरोना संक्रमण फैलने की दर धीमी है। हालांकि इसका एक कारण कम टेस्टिंग होना भी बताया जा रहा है। फिलहाल, भारत सबसे ज्यादा कोरोना मामलों की लिस्ट में 22वें नम्बर पर है। वहीं, मौतों की संख्या में वह 24वें स्थान पर है।

तारीख कुल मामले कुल मौतें एक दिन में मामले एक दिन में मौतें
1 फरवरी 1 0 0 0
8 फरवरी 2 0 1 0
15 फरवरी 3 0 1 0
22 फरवरी 3 0 0 0
29 फरवरी 3 0 0 0
7 मार्च 34 0 3 0
14 मार्च 100 2 18 0
21 मार्च 332 5 83 0
28 मार्च 987 24 100 4
4 अप्रैल 3,582 99 529 13
10 अप्रैल 7,600 261 871 29

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

मुंगेर में विसर्जन के दौरान पुलिस पर भीड़ ने की फायरिंग, एक व्यक्ति की मौत; 20 पुलिसवाले घायल

Hindi NewsLocalBiharBihar Munger Violence Update | One Killed And 20 Policemen Injured In Clash During Durga Puja Procession In Bihar’s Mungerमुंगेर3 घंटे पहलेपुलिस का...

एक फर्स्ट क्लास मैच खेलने वाले वरुण टीम इंडिया में शामिल, कहा- टीम को जिताने के लिए खेलूंगा

दुबई2 घंटे पहलेकॉपी लिंकवरुण को IPL में शानदार प्रदर्शन के लिए ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टीम इंडिया के टी-20 टीम में शामिल किया गया।ऑस्ट्रेलिया...

वनप्लस ने 17300 रुपए में लॉन्च किया नया नॉर्ड N100 स्मार्टफोन, सस्ता 5G फोन भी उतारा

Hindi NewsTech autoOnePlus Launches Its Cheapest Phone Till Date And New Mid range Device: Details Hereनई दिल्ली10 घंटे पहलेकॉपी लिंकइन स्मार्टफोन को अभी यूरोप...

जिस देश में राजदूत ही नहीं, वहां से उसे वापस बुलाने की बात कर रहे विदेश मंत्री

Hindi NewsInternationalPakistan National Assembly In A Unanimous Resolution Has Asked The Government To Recall Its Ambassador To Franceइस्लामाबादएक घंटा पहलेकॉपी लिंकविदेश मंत्री शाह महमूद...