Home बिज़नेस ई-कॉमर्स और कंज्यूमर ट्रेंड वाली कंपनियों के शेयरों में फंड के जरिए...

ई-कॉमर्स और कंज्यूमर ट्रेंड वाली कंपनियों के शेयरों में फंड के जरिए करिए निवेश

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

मुंबईएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

डिजिटल लाइफ स्टाइल लोगों की आदत बन रही है। इन सभी की सेवाओं का हम भारत में उपयोग तो करते हैं, पर इनकी कंपनियों में हम भारत में निवेश नहीं कर सकते हैं। क्योंकि यह कंपनियां भारत में लिस्टेड नहीं हैं। पर अब म्यूचुअल फंड के जरिए निवेश कर सकते हैं

  • इन्वेस्को ग्लोबल कंज्यूमर ट्रेंड्स फंड ऑफ फंड 4 दिसंबर को खुलेगा और 18 दिसंबर को बंद होगा
  • यह फंड अपनी असेट का 95 से 100 पर्सेंट तक इन्वेस्को ग्लोबल कंज्यूमर ट्रेंड फंड में निवेश करेगा

अगर आप ग्लोबल कंज्यूमर ट्रेंड और ई-कॉमर्स कंपनियों के शेयरों में निवेश करना चाहते हैं तो इन्वेस्को म्यूचुअल फंड आपके लिए अवसर लाया है। इसने इन्वेस्को ग्लोबल कंज्यूमर ट्रेंड्स फंड ऑफ फंड को लांच किया है। यह 4 दिसंबर को खुलेगा और 18 दिसंबर को बंद होगा। एनएफओ के दौरान कम से कम 1,000 रुपए का निवेश किया जा सकता है।

ओपन एंडेड फंड ऑफ फंड स्कीम

कंपनी की ओर से जारी प्रेस बयान के मुताबिक, यह एक ओपन एंडेड फंड ऑफ फंड स्कीम है जो इन्वेस्को ग्लोबल कंज्यूमर ट्रेंड्स फंड में निवेश करेगी। यह फंड अपनी असेट का 95 से 100 पर्सेंट तक इन्वेस्को ग्लोबल कंज्यूमर ट्रेंड फंड में निवेश करेगा।

सब कुछ डिजिटल होने का फायदा

दरअसल अब सब कुछ डिजिटल हो रहा है। ट्रैवल से लेकर खरीदी तक ऑन लाइन है। लोगों का फ्री समय ओटीटी पर बीत रहा है जबकि फेसबुक और ट्विटर पर भी लोग काफी समय बिता रहे हैं। घर में लोग ऑन लाइन गेमिंग भी डिजिटल देख रहे हैं। डिजिटल लाइफ स्टाइल लोगों की आदत बन रही है। इन सभी की सेवाओं का हम भारत में उपयोग तो करते हैं, पर इनकी कंपनियों में हम भारत में निवेश नहीं कर सकते हैं। क्योंकि यह कंपनियां भारत में लिस्टेड नहीं हैं।

घर-घर तक पहुंच है कंपनियों की

पूरी दुनिया में इस तरह की गेमिंग, ऑन लाइन, ई-कॉमर्स, इंटरटेनमेंट, इंटरनेट सेवा जैसी कंपनियां लोगों के घर-घर तक पहुंच चुकी हैं। इसमें प्रमुख कंपनियों की बात करें तो अमेजन, नेटफ्लिक्स, उबर, इलेक्ट्रॉनिक्स आर्टस आदि हैं। यह सभी टेक्नोलॉजी वाली कंपनियां हैं। यह ग्राहकों को ज्यादा डिजिटल बना रही हैं। विश्लेषकों के मुताबिक कोविड-19 जैसी स्थितियों ने लोगों के जीवन में डिजिटल में और बदलाव किया है। ग्लोबल कंपनियां अच्छा खासा रेवेन्यू हासिल करती हैं।

ऐसे में इन कंपनियों में आगे चलकर और बेहतर बदलाव की उम्मीद है। नई जनरेशन पूरी तरह से डिजिटल हो रही है जिससे ऐसी कंपनियों को लाभ होने की उम्मीद है।

सेवा का उपयोग करते हैं पर निवेश का फायदा नहीं ले पाते

कंपनी के सीईओ सौरभ नानावटी कहते हैं कि हम ढेर सारी ऐसी कंपनियों की सेवा का उपयोग करते हैं पर हम इनमें निवेश का फायदा नहीं ले पाते हैं। क्योंकि यह कंपनियां यहां लिस्टेड नहीं हैं। निवेशकों को भौगोलिक आधार पर डाइवर्सिफिकेशन करना चाहिए। एक फर्म के रूप में हम भारत में अपने निवेशकों के लिए निवेश की अलग रणनीति अपनाते हैं ताकि वे हमारे पैरेंट्स कंपनी के निवेश की क्षमता का लाभ उठा सकें।

निवेशक इसमें एसआईपी और एकमुश्त निवेश कर सकते हैं। बता दें कि इन्वेस्को म्यूचुअल फंड का असेट अंडर मैनेजमेंट 20,416 करोड़ रुपए अक्टूबर में रहा है।

Source link

Most Popular

देश की वित्तीय स्थिति तेज सुधार के साथ कोविड-19 के पहले से भी बेहतर हुई: क्रिसिल

Hindi NewsBusinessRBI Helps India Make It Financial Condition Better Than The Pre COVID LevelAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें...

गौहर खान की शादी के बाद भावुक हुईं उनकी मां,  एक्ट्रेस के ससुर इस्माइल दरबार से बोलीं- मेरी बेटी का ख्याल रखना

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप23 दिन पहलेकॉपी लिंकएक्ट्रेस और मॉडल गौहर खान ने म्यूजिशियन इस्माइल...

गाइडलाइन न होने से टीके की तिथि तय नहीं, वैक्सीन लांचिंग के स्थान आज तय हाेंगे

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपराजगढ़7 दिन पहलेकॉपी लिंककोविड 19 के वैक्सीनेशन के लिए ड्राय रन...