Home बिज़नेस कार में स्मार्टफोन, टैबलेट, बोतल समेत कई चीजों को इस कवर से...

कार में स्मार्टफोन, टैबलेट, बोतल समेत कई चीजों को इस कवर से करें ऑर्गनाइज; कीमत 500 रुपए से शुरू

  • Hindi News
  • Tech auto
  • Car Backseat Organizer For Back Seat Storage Pockets With Tablet, Mobile, Bottle, Tissue Box And Umbrella Holder

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

पर्सनल कार हमेशा एक रूम की तरह होती है। जहां अक्सर हम कोई भी चीज कहीं पर भी छोड़ देते हैं। कई बार ऐसा मौका भी आता है कि कार में हमारी चीजें गुम हो जाती है। ऐसे में कार के लिए बैक सीट ऑर्गनाइजर आता है। इसमें कई यूटिलिटी पॉकेट होती हैं। जिसमें स्मार्टफोन, टैबलेट के साथ पानी की बोतल और कई चीजें अरेंज कर सकते हैं।

ये ऑर्गनाइजर कार की सीट से पूरी तरह फिक्स हो जाता है। इसमें कई अलग तरह के डिजाइन आता है। वहीं, आपकी जररूत के हिसाब से इसमें कई पॉकेट और दूसरे एलिमेंट दिए होते हैं। आज हम आपको इन्हीं ऑर्गनाइजर के बारे में बता रहे हैं।

क्या है कार बैक सीट ऑर्गनाइजर? इसके नाम से साफ है कि ये एक ऑर्गनाइजर है। इसे हम ओपन बैक भी कह सकते हैं। इसके फ्रंट सीट पर बैक सीट वाले पैसेंजर के लिए फिक्स किया जाता है। इनमें मल्टी पॉकेट के साथ ग्लास और फूट ट्रे भी होती है। पैसेंजर अपनी जरूरत को देखते हुए इस ऑर्गनाइजर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इस ऑर्गनाइजर में मल्टी पॉकेट होती हैं जिसमें स्मार्टफोन, टैबलेट, पानी की बोतल फिक्स कर सकते हैं। इसमें टिशू पेपर रखने के लिए भी पॉकेट होती है। यहां से जरूरत पर एक एककर टिशू बाहर निकाल सकते हैं। यदि आप अपनी कार में छाता रखना पसंद करते हैं तब इसमें उसके लिए भी पॉकेट होती है। ये ऑर्गनाइजर बैक सीट से इतना ऊपर होता है कि पैसेंजर को किसी तरह की समस्या नहीं आती। ऑर्गनाइजर से बैक सीट का लेग स्पेस खत्म नहीं होता और ना ही पैसेंजर को किसी तरह का एडजेस्टमेंट करना होता है।

कार बैक सीट ऑर्गनाइजर की कीमत इस ऑर्गनाइजर की ऑनलाइन कीमत करीब 500 रुपए से शुरू हो जाती है। वहीं क्वालिटी और डिजाइन के हिसाब से कीमत में अंतर आता जाता है। यदि ये ऑर्गनाइजर लेदर मटेरियल का है तब इसकी कीमत ज्यादा होगी। इन्हें ऑनलाइन के साथ ऑफलाइन मार्केट से भी खरीद सकते हैं।

Source link

Most Popular

The Latest: Veterans home victims called ‘brave women’The Latest: Veterans home victims called ‘brave women’

The Latest: Veterans home victims called ‘brave women’The Latest: Veterans home victims called ‘brave women’The Latest: Veterans home victims called ‘brave women’The Latest: Veterans...

रिकैपिटलाइजेशन से पिछले पांच साल में कैसा रहा बैंकों का परफॉर्मेंस, CAG ने RBI से मांगी रिपोर्ट

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप23 दिन पहलेकॉपी लिंकबजट 2021-22 से पहले RBI को पत्र लिखकर...

तेलंगाना के डुब्बा टांडा गांव में बना सोनू सूद का मंदिर, गांव वाले बोले- वे हमारे लिए भगवान हैं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेकॉपी लिंकतेलंगाना के गांव डुब्बा टांडा में रविवार को...

श्रीशंखेश्वर मंदिर में भगवान पार्श्वनाथ के जन्मकल्याणक पर सजाया फूल बंगला

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपदेवास9 दिन पहलेकॉपी लिंकदिनभर हुए अनुष्ठान, बच्चों और महिलाओं ने दी...