Home बिज़नेस कोरोना संकट के बीच फूड डिलीवरी कंपनियों की नई रणनीति, ग्राहकों से...

कोरोना संकट के बीच फूड डिलीवरी कंपनियों की नई रणनीति, ग्राहकों से साझा कर रही है कुक से लेकर डिलीवरी ब्याय तक की मेडिकल हिस्ट्री, फूड की क्वालिटी पर खास फोकस

  • कंपनियां स्टॉफ की मेडिकल हिस्ट्री भी दे रही है ताकि ग्राहक में फूड क्वालिटी को लेकर भरोसा कायम रहें
  • जोमैटो और स्विगी सिर्फ उन्हीं रेस्तरां एग्रीगेटर्स के साथ काम कर रही है जहां साफ-सफाई का खास ख्याल रखा जाता है 

हलचल टुडे

Apr 10, 2020, 08:47 PM IST

नई दिल्ली. भारत की सबसे बड़ी फूड डिलीवरी प्लेटफार्म जोमैटो, स्विगी, रेबल फूड, ई-काॅमर्स कंपनी अमेजन, टी चेन कंपनी चायोज ने कोविड-19 महामारी से बचाने के लिए कूरियर्स, कुक तथा उनसे जुड़े हर सदस्य के लिए तापमान जांच आरंभ कर दी है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि स्‍टॉफ जब काम पर आयें तो वे पूरी तरह स्‍वस्‍थ हो। साथ ही ये कंपनियां ग्राहकों तक स्टाॅफ की मेडिकल हिस्ट्री भी दे रही है ताकि ग्राहक में फूड क्वालिटी को लेकर भरोसा कायम रहें।

फूड सुरक्षा को लेकर कंपनी का प्रयोग

कंपनी ग्राहक की सुरक्षा और विश्वसनियता को बनाएं रखने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। हाइजीन का खास ध्यान रखा जा रहा है। हाल ही में जोमैटो और स्विगी ने सिर्फ उन्हीं रेस्तरां एग्रीगेटर्स के साथ काम कर रही है जहां तापमान जांच और साफ-सफाई का खास ख्याल रखा जाता है। वहीं रेबल फूड्स भी फूड की सुरक्षा को लेकर बेहद सजग है।

रेबल फूड्स के सीईओ जयदीप बर्मन बताते हैं कि इस समय ग्राहक का भरोसा जीतना जरूरी है। हमारा किचन 24*7 घंटे कैमरे में रहता है जहां हम खाने-पीने की क्वालिटी पर खास नजर रखते हैं। साथ ही हर तीन घंटे पर काम कर रहे लोगों की तापमना जांच भी करते हैं।

साफ सफाई की पूरी व्यवस्था

इसने सभी स्थलों पर सफाई की आवृत्ति और तीव्रता में वृद्धि की है, जिसमें दरवाज़े के हैंडल, हैंड्रिल, टच स्क्रीन, स्कैनर और अन्य अक्सर स्पर्श किए जाने वाले क्षेत्रों की नियमित सफाई शामिल हैं। अमेजन इंडिया ने चर्याओं को भी समायोजित किया है, ताकि टीमें सामाजिक दूरी का पालन कर सकें, साइट पर या ग्राहकों को डिलीवरी करते समय भी।

स्विगी का कहना है कि वो अपने डिलीवरी बॉय को “हाथ धोने के तरीके और कितनी देर पर हाथ धोना है”, इसकी ट्रेनिंग दे रहा है। साथ ही ग्राहकों तक अपने डिलीवरी ब्याॅय की मेडिकल हिस्ट्री भी दे रहा है ताकि ग्राहक का भरोसा बना रहे।

ऑनलाइन ऑर्डर में 70 फीसदी की गिरावट आई है

बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए पूरे देशभर में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है। जरूरी सामानों को छोड़ दिया जाए, तो सारे व्यापार बंद हो चुके हैं। ऐसे में अब इस महामारी का असर जोमैटो और स्विगी जैसी ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनियों के व्यापार में भारी गिरावट दर्ज की गई है। लॉकडाउन के चलते लोगों ने ऑनलाइन फूड ऑर्डर करना कम कर दिया है। इसके चलते पिछले दस दिनों में जोमैटो और स्विगी को मिलने वाले ऑन-लाइन ऑर्डर में 70 फीसदी की गिरावट देखने को मिला है। लॉकडाउन से पहले इन कंपनियों को रोज 25 लाख ऑर्डर मिलते थे।

क्या कहना है WHO का

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक, ‘फूड हाईजीन और फूड सेफ्टी प्रैक्टिस’ से खाने के जरिए कोरोनावायरस के संक्रमण को रोका जा सकता है। WHO का कहना है कि ‘कोरोना वायरस thermolabile होते हैं, जिसका मतलब है कि वो खाना बनाने के तापमान (70°C) में वो अतिसंवेदनशील होते हैं।’ इसलिए अगर आप पका हुआ खाना ऑर्डर कर रहे हैं, तो आपको खाने के जरिए इंफेक्शन के संक्रमण के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

अब दिग्विजयसिंह का सौदेबाजी का ऑडियो वायरल; सपा प्रत्याशी रोशन मिर्जा ने कहा- मुझे नाम वापस लेने के लिए कांग्रेस ने लालच दिया

Hindi NewsLocalMpBhopalDigvijay Singh SP Candidate Roshan Mirza Audio Viral; Madhya Pradesh By Election 2020 Latest Updateभोपाल7 मिनट पहलेपूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का ग्वालियर के...

भाजपा 13 सीटों पर मजबूत, कांग्रेस 10 पर आगे, 5 सीटों पर कड़ी टक्कर

Hindi NewsLocalMpKamal Nath Shivraj Singh Chauhan | Madhya Pradesh By Election 2020; Latest News And Updates | Analysis Of 28 Vidhan Sabha Seats, Vidhan...