Home बिज़नेस दिसंबर में 14 पर्सेंट बढ़ी भर्ती, नौकरी देने में सबसे आगे इंश्योरेंस सेक्टर

दिसंबर में 14 पर्सेंट बढ़ी भर्ती, नौकरी देने में सबसे आगे इंश्योरेंस सेक्टर

  • Hindi News
  • Business
  • Recruitment Increased By 14% In December, Insurance Sector Leads In Hiring

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

6 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • भर्तियों में दूसरे नंबर पर ऑटो और एंसिलरी सेक्टर, नवंबर के मुकाबले 33 पर्सेंट ज्यादा नौकरियां
  • 8 से 12 साल और 13 से 16 साल के अनुभव वाले प्रोफेशनल्स की मांग सबसे ज्यादा 18 पर्सेंट बढ़ी

जॉब मार्केट में सुधार होने के संकेत मिल रहे हैं, जो बेरोजगारों के लिए अच्छी खबर है। कोविड-19 वाले साल के अंतिम महीने में नवंबर से 14 पर्सेंट ज्यादा लोगों को नौकरियां मिलीं। नौकरियों का यह आंकड़ा 2019 के मुकाबले कमजोर है, लेकिन कमी सिर्फ 10 पर्सेंट की ही है। यह जानकारी जॉब पोर्टल नौकरी.कॉम के जॉबस्पीक इंडेक्स से मिली है।

इंश्योरेंस सेक्टर में 45 पर्सेंट बढ़ी भर्ती

इंडेक्स के मुताबिक, इंश्योरेंस सेक्टर में नवंबर के मुकाबले पिछले महीने 45 पर्सेंट से ज्यादा भर्ती हुई। इस सेक्टर में नौकरी बढ़ने की वजह महामारी के चलते लोगों में स्वास्थ्य और बीमा को लेकर बढ़ी जागरूकता रही। भर्तियों के मामले में ऑटो और एंसिलरी सेक्टर दूसरे नंबर पर रहा, जहां 33 पर्सेंट ज्यादा नौकरियां दी गईं। इसकी वजह साल के अंत में होनेवाली गाड़ियों और उसमें लगने वाले सामान की खरीदारी रही। इसके अलावा फार्मा और बायोटेक में नवंबर के मुकाबले 28 पर्सेंट, FMCG सेक्टर में 21 पर्सेंट और IT सॉफ्टवेयर में 11 पर्सेंट ज्यादा भर्तियां हुईं।

जून तिमाही में भर्ती 56 पर्सेंट कम रही

नौकरी.कॉम के चीफ बिजनेस ऑफिर पवन गोयल ने कहा, ‘हॉस्पिटैलिटी, ट्रैवल, ऑटो और रिटेल सेक्टर रिबाउंड कर रहा है। दिसंबर में भर्ती के आंकड़े 2021 में स्ट्रॉन्ग रिकवरी के संकेत दे रहे हैं। मौजूदा वित्त वर्ष की जून तिमाही में भर्तियां पिछले वित्त वर्ष से 56 पर्सेंट कम रहीं लेकिन बाद की तिमाहियों में सुधार आया। दिसंबर 2020 की तिमाही में भर्तियां 2019 की दिसंबर तिमाही से सिर्फ 18 पर्सेंट कम रही। इसमें IT, ITes और BPO के अलावा मेडिकल और फार्मा सेक्टर में हुई भर्तियों का बड़ा हाथ रहा।’

दिल्ली में 16 पर्सेंट ज्यादा भर्तियां हुईं

दिसंबर में सबसे ज्यादा रिकवरी मेट्रो के जॉब मार्केट में हुई। पुणे में नवंबर से 18 पर्सेंट ज्यादा और दिल्ली में 16 पर्सेंट ज्यादा भर्तियां हुईं। पिछले महीने टीयर टू शहरों में भर्तियों में सबसे ज्यादा लगभग 30 पर्सेंट की बढ़ोतरी कोयंबटूर में हुई। इन शहरों में से अहमदाबाद में 20 पर्सेंट और जयपुर में 15 पर्सेंट ज्यादा भर्तियां हुईं।

होटल इंडस्ट्री में बड़ी रिकवरी, 13 पर्सेंट ज्यादा भर्तियां

दिसंबर के हायरिंग ट्रेंड में सबसे अच्छी बात यह रही कि टिकटिंग और ट्रैवल जैसे रोल वाली नौकरियों में दिसंबर में 46 पर्सेंट की उछाल आई। दरअसल कोविड-19 के चलते सबसे ज्यादा नुकसान उठाने वाले होटल/रेस्टोरेंट जैसी इंडस्ट्री में पिछले महीने नवंबर के मुकाबले 13 पर्सेंट ज्यादा भर्तियां हुईं। टीचिंग और एडुकेशन रोल में भर्तियां 27 पर्सेंट और एचआर/एडमिनिस्ट्रेशन के रोल में 22 पर्सेंट ज्यादा भर्तियां हुईं। जॉब मार्केट में पिछले महीने मांग में सबसे ज्यादा लगभग 18 पर्सेंट की बढ़ोतरी 8 से 12 साल और 13 से 16 साल के अनुभव वाले प्रोफेशनल्स की रही।

दिसंबर में बेरोजगारी 9.1 पर्सेंट, अप्रैल में 23.52 पर्सेंट थी

लेकिन कामगारों में बेरोजगारी फिर बढ़ गई और यह जून में अनलॉक फेज की शुरुआत के बाद सबसे ऊंचे लेवल पर पहुंच गई। दिसंबर में बेरोजगारी 9.1 पर्सेंट रही, जो अप्रैल में 23.52 पर्सेंट के रिकॉर्ड हाई लेवल पर थी। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकनॉमी (CMIE) के मुताबिक नवंबर में बेरोजगारी सिर्फ 6.5 पर्सेंट थी। दरअसल, लॉकडाउन के दौरान घरों को लौटे मजदूरों को खेती खपा नहीं पाई, इसलिए उनका शहरों में लौटना शुरू हो गया।

Source link

Most Popular

क्रिसमस डे पर चर्च पहुंचे पीएम मोदी? एक साल पुरानी फोटो गलत दावे से वायरल

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेकॉपी लिंकक्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर...

दतिया-शिवपुरी के बाद जौरा में भी मिले 2 मृत कबूतर, जांच के लिए भोपाल भेजा दोनों का बिसरा

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपमुरैना/जौरा13 दिन पहलेकॉपी लिंकजौरा में मृत मिले कबूतर।दतिया-शिवपुरी व श्योपुर के...

चंंबल वाटर प्रोजेक्ट, उसैद घाट पुल व आसन बैराज के लिए बजट नहीं, अप्रैल में मिला तो सितंबर में काम शुरू होगा

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपमुरैना13 दिन पहलेकॉपी लिंकचंबल नदी, जहां मुरैना तक पानी पहुंचाने बनाया...