Home बिज़नेस 36,000 से ज्यादा स्ट्रीट फूड वेंडर्स को अपने प्लेटफॉर्म पर लाएगी स्विगी,...

36,000 से ज्यादा स्ट्रीट फूड वेंडर्स को अपने प्लेटफॉर्म पर लाएगी स्विगी, सरकार से किया करार

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • फूड डिलीवरी स्टार्टअप करार के जरिए सरकार की तरफ से पेश योजना पीएम स्वनिधि को बढ़ाने का काम करेगी
  • इंदौर, बनारस, ग्वालियर, वडोदरा, विशाखापत्तनम, उदयपुर, लखनऊ जैसे शहरों के स्ट्रीट वेंडर्स की लिस्टिंग करेगी

फूड डिलीवरी स्टार्टअप स्विगी ने स्ट्रीट फूड वेंडर्स को फिर से कारोबार खड़ा करने में मदद के लिए सरकार के साथ करार किया है। इस करार के जरिए स्विगी सरकार की तरफ से पेश योजना पीएम स्वनिधि को बढ़ाने का काम करेगी।

पहले दौर में 125 शहरों के स्ट्रीट फूड वेंडर को जोड़ेगी

स्विगी ने 36,000 से ज्यादा स्ट्रीट फूड वेंडर्स को अपने प्लेटफॉर्म पर लाने के लिए सरकार के साथ करार किया है। कंपनी ने कहा है कि वह इसके तहत पहले दौर में 125 शहरों के स्ट्रीट फूड वेंडर को अपने प्लेटफॉर्म पर लाएगी।

टियर 2, टियर 3 शहरों के स्ट्रीट वेंडर्स की लिस्टिंग करेगी

फूड डिलीवरी स्टार्टअप स्ट्रीट फूड के लिए मशहूर इंदौर, बनारस, ग्वालियर, वडोदरा, विशाखापत्तनम, उदयपुर, लखनऊ और भिलाई जैसे टियर 2 और टियर 3 शहरों के स्ट्रीट वेंडर्स की लिस्टिंग करेगी। पायलट प्रोजेक्ट के तहत कंपनी अपने प्लेटफॉर्म पर अहमदाबाद, बनारस, चेन्नई, दिल्ली और इंदौर के 300 से ज्यादा स्ट्रीट वेंडर्स को ला चुकी है।

ऐप पर फूड वेंडर्स के लिए अलग स्पेस क्रिएट किया है

फूड डिलीवरी फर्म ने अपने ऐप प्लेटफॉर्म पर अलग स्पेस क्रिएट किया है, जहां कंज्यूमर अपने पसंदीदा फूड वेंडर्स को ढूंढ सकते हैं। उसने FSSAI और उसके पैनल में शामिल पार्टनर्स के साथ पार्टनरशिप में फूड वेंडर्स को फूड सेफ्टी ट्रेनिंग और सर्टिफिकेशन मुहैया कराने का आश्वासन दिया है।

डिजिटल इकनॉमी को अपनाकर बढ़ने में मदद करेगी

सरकार के साथ हुए करार के बाबत स्विगी के सीओओ विवेक सुंदर कहते हैं, “स्ट्रीट वेंडर देश की खान-पान संस्कृति का अटूट हिस्सा हैं। स्विगी उनको नई स्थिति के हिसाब से ढलने और डिजिटल इकनॉमी को अपनाकर आगे बढ़ने में मदद करेगी।”

स्वनिधि स्कीम के तहत आए ​​​​1.47 लाख लोन एप्लिकेशन

स्वनिधि स्कीम के तहत सरकार को स्ट्रीट फूड वेंडर्स की तरफ से अब तक 1.47 लाख लोन एप्लिकेशन मिले हैं। स्विगी इस स्कीम के तहत लोन पाने वाले 125 शहरों के 36000 वेंडर्स को अपने प्लेटफॉर्म पर ला रही है।

स्ट्रीट फूड वेंडर्स के सपोर्ट के लिए पीएम स्वनिधि स्कीम

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के चलते फैली महामारी पर रोकथाम के मकसद से किए गए लॉकडाउन से स्ट्रीट फूड वेंडर्स का कारोबार ठप पड़ गया था। ऐसे में स्ट्रीट फूड वेंडर्स को सपोर्ट देने की जरूरत को ध्यान में रखते हुए मोदी सरकार ने पीएम स्वनिधि स्कीम पेश की थी।

स्ट्रीट वेंडर्स को तुरंत दिया गया 10,000 रुपये का लोन

यह पहली बार था जब सरकार ने स्ट्रीट वेंडर्स ने इतने बड़े पैमाने पर कोई स्कीम लॉन्च की थी। इस स्कीम में स्ट्रीट वेंडर्स को तुरंत 10,000 रुपये का लोन दिया गया, जिसका मकसद लॉकडाउन हटने पर उन्हें कारोबार शुरू करने में मदद देना था।

Source link

Most Popular

कोला कंपनी की देन है लाल रंग की पोशाक वाला सेंटा क्लॉज; पहले 25 दिसंबर नहीं, 6 जनवरी को मनाते थे त्योहार

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेलेखक: उदिता सिंह परिहारक्या आप जानते हैं? क्रिसमस पर...

नगर इकाई गठन में भाजपा एक व्यक्ति एक पद सूत्र अपनाएगी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपउज्जैन16 दिन पहलेकॉपी लिंकफाइल फोटोयानी महापौर व पार्षद के लिए दावेदारी...

उज्जैन में रात का तापमान औसत से 3.470 ज्यादा, आज मौसम रहेगा साफ

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपउज्जैन16 दिन पहलेकॉपी लिंकदो दिन से रात से सुबह तक कोहरा...