Home मनोरंजन अजय देवगन के साथ काम कर चुके शिवकुमार वर्मा के पास इलाज...

अजय देवगन के साथ काम कर चुके शिवकुमार वर्मा के पास इलाज के पैसे नहीं, सलमान,अक्षय से लगाई मदद की गुहार

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

25 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अजय देवगन स्टारर फिल्म ‘हल्ला बोल’ (2008) में नजर आए अभिनेता और सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन (CINTAA) के सदस्य शिवकुमार वर्मा क्रॉनिक ऑबस्ट्रेक्टिव पल्मोनरी डिजीज (CODP) से जूझ रहे हैं, जो फेंफड़ों की बीमारी है। बताया जा रहा है कि वे वेंटिलेटर पर हैं और अपने इलाज का खर्च उठाने में असमर्थ हैं।

CINTAA की ओर से शिवकुमार की आर्थिक मदद के लिए बॉलीवुड सेलेब्स से गुहार लगाई गई है। एसोसिएशन ने अपनी सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा है, “मदद के लिए अर्जेंट कॉल। CINTAA के सदस्य शिवकुमार वर्मा CODP से जूझ रहे हैं और उन्हें COVID-19 होने का संदेह भी है। उन्हें अस्पताल के खर्चों के लिए अर्जेंट फंड की जरूरत है। हमारा आग्रह है कि प्लीज आप जो भी मदद करते सकते हैं, करें।”

कई बार पोस्ट कर सेलेब्स को टैग किया

एसोसिएशन की ओर से यह पोस्ट कई बार की गई है और हर बार अलग-अलग सेलेब्स को टैग किया गया है, जिनमें अमिताभ बच्चन, अनिल कपूर, सनी देओल, अक्षय कुमार विद्या बालन, सलमान खान और मनोज जोशी जैसे एक्टर्स शामिल हैं।

इलाज में 3-4 लाख रुपए का खर्च आएगा
एक अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट से बातचीत में CINTAA के अमित बहल ने बताया कि उन्होंने शिवकुमार एसोसिएशन के एक्टिव मेंबर हैं। उन्होंने उनके खाते में 50 हजार रुपए डाल दिए हैं। उनके मुताबिक, वर्मा को सांस लेने में दिक्कत हुई थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनके इलाज में 3-4 लाख रुपए का खर्च आएगा।

शिव कुमार वर्मा ने ‘हल्ला बोल’ के अलावा ‘बाजी जिंदगी की’ जैसी फिल्मों में भी काम किया है। इसके अलावा वे कई टीवी सीरियल्स में भी नजर आए हैं।

Source link

Most Popular

पाेल्ट्री फार्माें की सुरक्षा काे लेकर बैठक आज

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपदेवास9 दिन पहलेकॉपी लिंकजिले में पक्षियों के मरने का क्रम निरंतर...

A Wrinkle in Time isn’t for cynics — or adults

A Wrinkle in Time isn’t for cynics — or adultsA Wrinkle in Time isn’t for cynics — or adultsA Wrinkle in Time isn’t for...

वाणिज्य मंत्रालय ने कार्बन ब्लैक पर एंटी डंपिंग ड्यूटी की अवधि 5 साल और बढ़ाने की सिफारिश की

Hindi NewsBusinessCommerce Min For Extension Of Anti dumping Duty On Carbon Black Used In Rubber IndustryAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए...

नहीं रहे 'राम जाने' जैसी फिल्मों के प्रोड्यूसर प्रवेश सी. मेहरा, एक महीने से कोविड-19 से जूझ रहे थे

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेकॉपी लिंकशाहरुख खान स्टारर 'चमत्कार' (1992) और 'राम जाने'...