Home मनोरंजन किसानों के खिलाफ एक्ट्रेस ने किया था सोशल मीडिया पोस्ट, गुरुद्वारा समिति...

किसानों के खिलाफ एक्ट्रेस ने किया था सोशल मीडिया पोस्ट, गुरुद्वारा समिति ने भेजा कानूनी नोटिस

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

दिल्ली10 मिनट पहले

कंगना ने विवाद होने पर सोशल मीडिया से इस पोस्ट को हटा दिया था।

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (DSGMC) के एक सदस्य ने एक्ट्रेस कंगना रनोट को कानूनी नोटिस भेजा है। उन्होंने कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखी थी। नोटिस में कहा गया है कि संविधान के तहत किसानों को भी शांतिपूर्ण प्रदर्शन का हक है। वे किसानों का अपमान नहीं कर सकती हैं।

कमेटी के सदस्य जस्मैन सिंह नोनी की ओर से वकील हरप्रीत सिंह होरा ने नोटिस में कहा है कि जब मुंबई में कंगना के ऑफिस के एक हिस्से को तोड़ा गया तो उन्होंने अपने प्रशंसकों को एकजुट करने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया। उस समय उन्होंने कहा कि निगम की कार्रवाई उनके मौलिक अधिकारों पर हमला है। इसी तरह किसानों को भी मौलिक अधिकारों के तहत प्रदर्शन का अधिकार है।

शाहीन बाग वाली दादी को लेकर भी किया था आपत्तिजनक ट्वीट
नोटिस में आगे कहा गया है, ‘कंगना ने एक सोशल मीडिया पोस्ट शेयर कर आरोप लगाया कि ‘शाहीन बाग की दादी’ भी नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों के आंदोलन से जुड़ गई हैं। अभिनेत्री ने अपने उसी सोशल मीडिया पोस्ट में कहा कि ‘टाइम’ पत्रिका में जगह बना चुकी वही दादी ‘100 रुपए में उपलब्ध’ है। हालांकि, हलचल टुडे की पड़ताल में सामने आया था कि कंगना ने बिना नाम लिए मोहिंदर कौर को शाहीनबाग में CAA और NRC के विरोध में शामिल हुईं बिलकिस बानो बताया था। हालांकि, जब उन्हें ट्रोल किया गया तो उन्होंने अपनी यह पोस्ट डिलीट कर दी थी। इसी पोस्ट को लेकर अब उन्हें नोटिस भेजा गया है।

कंगना द्वारा किया गया पोस्ट, जो अब डिलीट हो चुका है। वायरल फोटो में बुजुर्ग महिला के हाथ में एक झंडा दिख रहा है। वे भारतीय किसान यूनियन की ओर से आंदोलन में शामिल हुई थीं।

कंगना द्वारा किया गया पोस्ट, जो अब डिलीट हो चुका है। वायरल फोटो में बुजुर्ग महिला के हाथ में एक झंडा दिख रहा है। वे भारतीय किसान यूनियन की ओर से आंदोलन में शामिल हुई थीं।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से कार्रवाई करने को कहा
नोटिस में कहा गया, ‘कई खबरों में दावा किया गया कि दोनों महिलाएं अलग-अलग हैं और अगर नहीं भी हैं तो उन्हें अपनी राजनीति चमकाने के लिए किसी बुजुर्ग महिला को अपमानित करने का अधिकार नहीं है। यह साफतौर पर नफरत फैलाने वाला पोस्ट है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को जल्द से जल्द इस पर कदम उठाने की जरूरत है।’

Source link

Most Popular

तेलंगाना के डुब्बा टांडा गांव में बना सोनू सूद का मंदिर, गांव वाले बोले- वे हमारे लिए भगवान हैं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेकॉपी लिंकतेलंगाना के गांव डुब्बा टांडा में रविवार को...

श्रीशंखेश्वर मंदिर में भगवान पार्श्वनाथ के जन्मकल्याणक पर सजाया फूल बंगला

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपदेवास9 दिन पहलेकॉपी लिंकदिनभर हुए अनुष्ठान, बच्चों और महिलाओं ने दी...

मार्च में हरिद्वार में कुंभ, अप्रैल-मई में IPL और 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप18 दिन पहलेकॉपी लिंकइस साल लंबी छुटि्टयां प्लान करने के लिए...

बिटकॉइन ने 28,000 डॉलर का लेवल पार किया, 500 अरब डॉलर से ज्यादा हुआ मार्केट कैपिटलाइजेशन

Hindi NewsBusinessBitcoin Crossed 28000 Dollars Level Market Capitalization Exceeded 500 Billion DollarsAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे...