Home यूटिलिटी अगर आप पर है अपनों के देखभाल की जिम्मेदारी, तो रखें इन...

अगर आप पर है अपनों के देखभाल की जिम्मेदारी, तो रखें इन 4 बातों का ध्यान

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

लाइफ में हम कभी न कभी केयरगिवर के रोल में होते हैं। केयरगिवर यानी देखभाल करने वाला। यह ऐसी जिम्मेदारी है, जब हमें अपनों की देखभाल करना होती है। अमेरिका में 5 में से 1 बच्चा इस तरह की जिम्मेदारी निभा रहा है। वह अपने बुजुर्ग पेरेंट्स या फैमिली मेंबर में से किसी न किसी की देखभाल कर रहा है।

रोसालिन कार्टर इंस्टीट्यूट फॉर केयर-गिविंग की संस्थापक रोसालिन कार्टर कहती हैं कि दुनिया में चार तरह के लोग हैं। पहले वह जो केयरगिवर थे, दूसरे वह जो अभी केयरगिवर हैं, तीसरे वह जो फ्यूचर में केयरगिवर होंगे और चौथे वे जिनको केयरगिवर की जरूरत है।

केयरगिवर एक तरह की जॉब और एक तरह की जिम्मेदारी भी है। कई लोग इसे पेशे के तौर पर लेते हैं। वहीं, जो लोग अलग से केयरगिवर रखने के स्थिति में नहीं होते, तो उनके फैमिली मेंबर पर यह जिम्मेदारी आ जाती है। इस रोल में आपकी लाइफ पूरी तरह चेंज हो जाती है। न आप छुट्टियों में घूमने जा सकते हैं और न ही ज्यादा देर के लिए घर से बाहर जा सकते हैं।

देखभाल करने में हमारे सामने बहुत सारे चैलेंज होते हैं। जैसे मरीज को समय पर दवाई देना, उसकी बेडशीट बदलना, उसे नहलाना या उसके सारे काम करना। इसके लिए खूब सारी एनर्जी और पेशेंस चाहिए होता है।

अगर आप केयरगिवर के रोल में हैं या हो सकते हैं तो इन 4 बातों का ध्यान रखें

1. पहले से प्लानिंग करें और चीजों को व्यवस्थित रखें

अगर आप किसी की देखभाल कर रहे हैं। अपने किसी करीबी जैसे पेरेंट्स या पार्टनर के देखभाल के बारे में सोच रहे हैं। तो इसके लिए आपको पहले से तैयारी कर लेनी चाहिए। देखभाल रखने के लिए भी प्लानिंग की जरूरत होती है। इसलिए सबसे पहले किसी भी तरह की हेल्थ इमरजेंसी के लिए तैयार रहें।

2- अपनों के अलावा खुद का ख्याल भी रखें

केयरगिवर के सामने सबसे बड़ी चुनौती खुद की सेहत की होती है। उनका रोल बहुत तनाव वाला रहता है। ऐसे में उन्हें अपनी सेहत पर ध्यान देने का वक्त नहीं मिलता। इसकी वजह से कई बार उनकी भी तबियत बिगड़ने लगती है। ऐसे में उन्हें अपनी सेहत का ख्याल रखना बेहद जरूरी हो जाता है।

3- कोरोना से बचने के लिए 6 बातों का ख्याल रखें

कोरोना ने लोगों के सामने कई तरह के चैलेंज ला दिए हैं। ऐसे में अब केयरगिवर के सामने भी यह एक चुनौती है। कई कोरोना मरीज होम आइसोलेशन में हैं तो उनकी केयर करने में कुछ ज्यादा ही चुनौतियां हैं। इसमें उन्हें दो तरह की जिम्मेदारी पूरी करना पड़ रही है। पहला तो अपनी सेहत का ख्याल रखना और दूसरा जरूरतमंद की भी देखभाल करना है।

4. केयरगिवर के रोल में नए हैं तो हॉस्पिटल के स्टाफ से सलाह लें

  • आजकल डॉक्टर, नर्स और स्टाफ बॉय काम का बोझ होने के चलते मरीजों के साथ कम समय बीता रहे हैं। अब हॉस्पिटल में देखभाल की बजाय मरीजों को घर पर देखभाल करने की सलाह दी जा रही है। ऐसे में केयरगिवर की जिम्मेदारी बढ़ गई है। उन पर मरीजों को समय पर दवाई से लेकर खाना खिलाने और बाकी चीजों का ख्याल रखना होता है।
  • अगर आप इस काम में नये हैं तो हॉस्पिटल स्टाफ से सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर से भी देखभाल को लेकर टिप्स ले सकते हैं। साथ ही हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने से पहले उस तरह के सभी काम को समझ लें, जो मरीज की देखभाल में घर पर भी करना होगा।

Source link

Most Popular

आज से रात का पारा लुढ़केगा, कोहरा छाएगा, हवा का रुख बदलकर उत्तर-पश्चिमी हुआ

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपग्वालियर11 दिन पहलेकॉपी लिंकप्रतिकात्मक फोटोरविवार को दिन-रात का तापमान बढ़त के...

दिल्ली में CAA का विरोध कर रहे लोगों पर गोली चलाने वाले ने दिन में BJP जॉइन की, शाम को पार्टी ने बाहर किया

Hindi NewsNationalKapil Gurjar BJP Update | Delhi Shaheen Bagh Shooter Kapil Gurjar Expelled From Bharatiya Janata PartyAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के...

अक्टूबर में ESIC से 11.75 लाख नए सदस्य जुड़े, EPFO से जुड़ने वालों में कमी आई

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपनई दिल्लीएक महीने पहलेकॉपी लिंकNSO की रिपोर्ट ESIC, एंप्लॉयीज प्रॉविडेंट फंड...

NCB ने फॉरेंसिक जांच के लिए भेजे 85 गैजेट्स, इनमें दीपिका, सारा, श्रद्धा जैसे बॉलीवुड सेलेब्स के गैजेट्स भी शामिल

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपएक महीने पहलेसुशांत सिंह राजपूत डेथ केस से जुड़े ड्रग्स मामले...