Home यूटिलिटी कम बुकिंग के चलते अब 30 अप्रैल तक नहीं चलेगी तेजस एक्सप्रेस,...

कम बुकिंग के चलते अब 30 अप्रैल तक नहीं चलेगी तेजस एक्सप्रेस, 1 मई से यात्रा के लिए करा सकते हैं बुकिंग

  • इस बीच जिन यात्रियों ने टिकट की बुकिंग करा रखी थी उन्हें रिफंड मिल जाएगा
  • IRCTC के रसोईघरों में 8,000 लोगों के लिए तैयार किया जा रहा खाना

हलचल टुडे

Apr 07, 2020, 07:07 PM IST

नई दिल्ली. देशभर में कोरोनावायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। अब तक करीब 4000 मामले सामने आ चुके हैं। ऐसे में लॉकडाउन की अवधि बढ़ने के आसार को देखते हुए प्राइवेट ट्रेनों में बुकिंग एक बार फिर से बंद कर दी गई है। अब, इन ट्रेनों में 1 मई 2020 से बुकिंग खोली गई है। बता दें कि मार्च में लाॅकडाउन की घोषणा के बाद रेलवे ने 21 दिनों के लिए मालगाड़ी को छोड़कर सभी ट्रेनों की सेवाएं निलंबित कर दी गई थी।

क्या कहना है आईआरसीटीसी का?
देश में प्राइवेट ट्रेन के परिचालन की शुरुआत करने वाली कंपनी इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिज्म कारपोरेशन (IRCTC) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आगामी 15 अप्रैल से 30 अप्रैल के बीच प्राइवेट ट्रेन का परिचालन रद्द कर दिया गया है। इसलिए इन ट्रेनों में बुकिंग फिर से बंद कर दी गई है।

नहीं मिल रही है बुकिंग
रेलवे अधिकारी के मुताबिक, अब तक सिर्फ 100 लोगों ने ही रिजर्वेशन कराया था। इतने कम यात्रियों के साथ पूरी ट्रेन को चलाने से काफी नुकसान होता है इसलिए बुकिंग बंद कर दी गई है। इस बीच यानि की 15 से 30 अप्रैल तक जिन यात्रियों ने टिकट की बुकिंग करा रखी थी उन्हें रिफंड मिल जाएगा। इस समय आईआरसीटीसी तेजस एक्सप्रेस के नाम से देश के दो अति व्यस्त रूटों पर प्राइवेट ट्रेनों का परिचालन करती है। इनमें दिल्ली से लखनउ और अहमदाबाद से मुंबई का रूट शामिल है।

क्या 21 दिन से आगे भी बढ़ सकती है लॉकडाउन की मियाद?
बता दें कि सरकार ने साफ कर दिया है लाॅकडाउन की प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ाई जाएगी, लेकिन कोरोना का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है इससे यह अंदेशा लगाया जा रहा है कि सरकार लाॅकडाउन की अवधि को आगे जारी कर सकती है। हाल ही में सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया ने भी 30 अप्रैल तक के लिए बुकिंग बंद करने का ऐलान किया था।

IRCTC के रसोईघरों में 8,000 लोगों के लिए तैयार किया जा रहा खाना
देशव्यापी लाॅकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों तक खाना पहुंचाने के लिए आईआरसीटीसी देशभर में विभिन्न जगह मौजूद अपने रसोईघरों में जरूरतमंदों के लिए रसोई खोल दिया है। इन रसोईयों में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा के दिन से खाना तैयार किया जा रहा है और इससे चार लाख से ज्यादा लोगों को अब तक लाभ मिल चुका है। आइआरसीटीसी के प्रवक्ता सिद्धार्थ सिंह ने बताया कि हर दिन 8,000 लोगों के लिए हमारी रसोई में खाना तैयार किया जा रहा है। हमारे पास 8,200 मील की डिमांड आ रही है तो हम उसी के हिसाब से खाना तैयार कर रहे हैं आगे जैसे-जैसे मांग बढ़ेगी हम भी खाने की क्वांटिटी बढ़ा देंगे। उन्होंने आगे बताया कि दिन में दो बार लोगों को खाना मुहैया करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किचन में सुबह 6 बजे से काम शुरू कर दिया जाता है और 11 बजे तक दोपहर का खाना तैयार हो जाता है। वहीं रात के खाने का काम हम दोपहर 1 बजे शुरू कर देते हैं और 6 बजे तक यह तैयार हो जाता है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

चेन्नई ने कोलकाता के खिलाफ टॉस जीतकर बॉलिंग चुनी; डु प्लेसिस की जगह वॉटसन टीम में

दुबई11 मिनट पहलेकॉपी लिंकटॉस के दौरान चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान इयोन माॅर्गन।IPL के 13वें...

अपनी प्रसन्नता को दूसरों की प्रसन्नता में मिला लेना ही निस्वार्थ प्रेम है, जो लोग निराश नहीं होते, वे ही सच्चे साहसी होते हैं

Hindi NewsJeevan mantraDharmMotivational Quotes Of Pandit Shriram Sharma Acharya, Inspirational Quotes Of Gayatri Parivar, Gayatri Pariwar And Shriram Sharma Acharya14 घंटे पहलेकॉपी लिंकपं. श्रीराम...