Home यूटिलिटी शोध में दावा- लॉकडाउन के दौरान लोगों में तनाव ज्यादा रहा, डाइट...

शोध में दावा- लॉकडाउन के दौरान लोगों में तनाव ज्यादा रहा, डाइट पर ध्यान न देने से वजन बढ़ा

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना काल में लोगों की जंक फूड खाने की आदत बढ़ी और एक्सरसाइज की आदत कम हुई है। इससे उनमें (स्ट्रेस लेवल) बढ़ा और नींद में कमी आई है। एक शोध में यह दावा किया गया है।

49 साल के स्टीफन लो की कोरोना के पहले लाइफस्टाइल सही थी। वह हफ्ते में तीन बार एक्सरसाइज के लिए जाते थे। डिनर में हेल्दी फूड बनाते थे, लेकिन कोरोना में लगे लॉकडाउन के बाद अचानक सब बदल गया। वे घर में रहने लगे। उनमें तनाव का स्तर बढ़ गया। एक्सरसाइज में कमी आई। खाना ज्यादा शुरू कर दिया, जिसमें जंक फूड की मात्रा ज्यादा थी। लो का कहना है कि हम वही खाते हैं जो टेस्टी लगता है।

स्टडी का दावा- लॉकडाउन में हेल्थ पर सबसे ज्यादा असर पड़ा

  • पेनिंगटन बायोमेडिकल रिसर्च सेंटर ने दुनियाभर के 8 हजार युवा लोगों पर रिसर्च की। इसमें 50 अलग- अलग देशों के युवा भी शामिल हुए। इसमें पता चला कि लॉकडाउन में लोगों का हेल्थ बिहेवियर ठीक नहीं रहा।
  • प्रोफेसर एमिली फ्लेंगन कहती हैं कि मोटे लोगों पर सबसे ज्यादा असर हुआ। इससे चिंता और बढ़ गई है। जबकि इनमें कोरोना से पहले एंग्जाइटी की समस्या थी। कोरोना के समय यह समस्या और बढ़ी है।
  • इसके अलावा रिसर्च में कई तरह के दावे सामने आए। जैसे लोगों के रूटीन में बदलाव आने की वजह कोरोना के समय लगा लॉकडाउन है। लोग घरों में आइसोलेट हो गए, आर्थिक नुकसान हुआ, ेक करोड़ से ज्यादा लोगों की नौकरी चली गई। डेली रूटीन प्रभावित हुआ। यही सब कारण रहे, जिससे लोगों ने अपनी हेल्थ पर ध्यान देना कम कर दिया।
  • ठंड में 30% ज्यादा बर्न होती है कैलोरी, अच्छा रहता है डाइजेशन; जानें सेहत बनाने वाले 5 फूड

सोशल मीडिया पर किया ऑनलाइन सर्वे

  • प्रोफेसर फ्लेंगन और सहकर्मियों का मानना है कि कोरोना के समय लोग तनाव के दौर से गुजर रहे थे। उन्हें यह नहीं पता था कि कोरोना में उन पर किस तरह का असर हुआ। इसलिए उन्होंने सभी सवालों के जवाब ढूंढने के लिए सोशल मीडिया पर सर्वे किया था।
  • अप्रैल से मई के शुरुआत तक अमेरिका समेत कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के 7,750 लोग सर्वे में शामिल हुए। इसमें ज्यादातर 51 साल के थे। इनमें महिलाओं की संख्या ज्यादा था। इनमें तीन तरह के लोग थे। पहले वो जिनका वजन बढ़ा, दूसरे वे जो मोटापे की समस्या से जूझ रहे और तीसरे वे जिनका वजन नॉर्मल था।
  • सर्वे में सामने आया कि 27% लोगों में वजन तब बढ़ा, जब शुरूआत में लॉकडाउन लगा था। इनमें मोटापे की समस्या से जूझ रहे लोगों का आंकड़ा और भी ज्यादा पाया गया। 33% वे रहे जिनका वजन बढ़ा है। इनकी तुलना में 24.7% वह लोग रहे जिनका वजन नॉर्मल था।
  • सर्वे में कुछे अच्छे रिजल्ट भी निकल कर आए हैं। स्टडी में शामिल 17% लोगों में वजन कम हुआ है। लेकिन यह वह लोग थे जिन्होंने अपनी एक्सरसाइज और डाइट पर ध्यान दिया।
  • कोरोना में पुरुषों के अंदर बढ़ी अकेलेपन की समस्या, इस तरह से कर सकते हैं दूर

मन पर असर पड़ा, 10% लोग में ज्यादा सोने के लक्षण

  • अगर लोगों के मानसिक तनाव को लेकर बात करें तो 20% लोगों का कहना है कि उनमें स्ट्रेस लेवल बढ़ा है। इससे उनके डेली रूटीन पर भी असर हुआ है। वहीं 44% का कहना है कि कोरोना के दौरान लोगों की नींद पर भी असर हुआ है। उनके सोने के रूटीन पर भी असर पड़ा है। वहीं 10% लोगों का कहना है कि वह पहले से ज्यादा सो रहे हैं। हालांकि लोगों में एंग्जाइटी लेवल बढ़ने की वजह साफ नहीं हुई। लेकिन लोगों में वायरस के खतरे को लेकर चिंता ज्यादा रही।
  • प्रोफेसर फ्लेंगन कहती हैं कि सभी चीजें मानसिक स्तर से जुड़ी हैं। लॉकडाउन के समय लोगों में तनाव बढ़ा, जिससे उनकी नींद पर असर हुआ। इस वजह से उनमें खाने की आदत बढ़ गई और एक्सरसाइज की आदत में कमी आई।

कैसे कर सकते हैं कंट्रोल

  • प्रोफेसर फ्लेंगन के मुताबिक, हम लोगों को जागरूक कर सकते हैं। उन्हें बता सकते हैं कि अगर ऐसी स्थिति आगे भी बने तो तनाव लेने से बचें। तनाव लाइफस्टाइल पर असर डालता है। कभी- कभी वजन बढ़ने की वजह से भी लोगों में बीमारी का खतरा जानलेवा हो जाता है। खाने की आदत और डाइट पर कंट्रोल करें। रोजाना एक्सरसाइज के लिए समय निकालें।

Source link

Most Popular

उस मुगल बादशाह का जन्म, जिसने दुनिया के लिए प्रेम का प्रतीक बनाया

Hindi NewsNationalToday History: Aaj Ka Itihas India World 4 January Update | GSAT 14 Deployed Successfully, Mughal Emperor Shah Jahan Interesting FactsAds से है...

भारत के डेट बाजार से FII ने एक लाख करोड़ निकाले, लेकिन चीन में किया 8.6 लाख करोड़ का निवेश

Hindi NewsBusinessFIIs Withdraw One Lakh Crore From Indian Stock Market, China Invested 8.6 Lakh Crore | Here's All You Need To KnowAds से है...

पहली बीवी से तलाक के बाद ऐसे आमिर खान की जिंदगी में आईं थी किरण राव, 30 मिनट तक फोन पर बात करके उनसे...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप19 दिन पहलेआमिर खान और किरण राव की शादी को 15...

बिना नारे लगाए हाथों में बैनर लिए सड़क निर्माण को लेकर निकाला मौन पैदल मार्च

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपखरगोन6 दिन पहलेकॉपी लिंकसनावद विकास संघर्ष समिति ने इंदौर-इच्छापुर हाईवे पर...