Home यूटिलिटी सिर्फ इनकम टैक्स बचाने के लिए नहीं, अपनी जरूरत के हिसाब से...

सिर्फ इनकम टैक्स बचाने के लिए नहीं, अपनी जरूरत के हिसाब से चुने सही लाइफ और हेल्थ इंश्योरेंस

  • Hindi News
  • Utility
  • Income Tax ; Life Insurance ; Health Insurance ; Insurance ; Not Just To Save Income Tax, Choose The Right Life And Health Insurance According To Your Needs

नई दिल्ली4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

टर्म या लाइफ इंश्योरेंस लेने से पहले अपने परिवार की जरूरतों और लायबिलिटीज का ध्यान रखना चाहिए

  • लाइफ इंश्योरेंस के तहत आप अधिकतम 1.5 लाख रुपए के निवेश पर टैक्स छूट पा सकते हैं
  • हेल्थ इंश्योरेंस में निवेश पर आप अधिकतम 60 हजार रुपए तक टैक्स छूट पा सकते हैं

पिछले कुछ सालों में लोग टैक्स छूट पाने के लिए लाइफ और हेल्थ इंश्योरेंस लेने लगे हैं। हममें से कई लोगों ने अपनी पहली बीमा पॉलिसी केवल टैक्स बचाने के लिए खरीदी होगी। लेकिन किसी को यह नहीं भूलना चाहिए कि जीवन बीमा पॉलिसी का मुख्य उद्देश्य आपको और आपके परिवार को वित्तीय सुरक्षा देना है न कि टैक्स बचाना। इसीलिए हमेशा अपनी और अपने परिवार के जरूरतों के आधार पर सही इंश्योरेंस पॉलिसी चुनना चाहिए।

हेल्थ इंश्योरेंस लेते वक्त इन बातों का रखें ख्याल
सही प्लान का चयन करने के लिए विभिन्न इंश्योरेंस कंपनियों द्वारा पेश की जाने वाली अलग-अलग पॉलिसियों का विश्लेषण करना और उनकी आपस में तुलना करना जरूरी और महत्वपूर्ण होता है। किसी प्रतिष्ठित बीमा कंपनी से ऐसी पॉलिसी खरीदने की सिफारिश की जाती है जो आपकी जरूरतों के अनुरूप हो। इसके साथ-साथ सेवा देने और क्लेम का निपटारा करने के मामले में भी उस कंपनी का रिकॉर्ड शानदार होना चाहिए, क्योंकि आपके क्लेम करते वक्त ये बातें काफी मायने रखती हैं।

आपको यह भी याद रखना चाहिए कि जरूरी नहीं है कि कोई किफायती पॉलिसी आपके लिए सही पॉलिसी सिद्ध होगी। और आखिरी बात, आपको अंतिम निर्णय लेने से पहले पॉलिसी की शर्तें अच्छी तरह समझने के लिए पॉलिसी डॉक्युमेंट को ध्यान से पढ़ना चाहिए। आपके पास सही हेल्थ इंश्योरेंस प्लान होने से आपको कवरेज तथा टैक्स बचत का दोहरा लाभ मिलता है।

आर्थिक जरूरतों को ध्यान में रखकर चुने सही लाइफ इंश्योरेंस
टर्म या लाइफ इंश्योरेंस लेने से पहले अपने परिवार की जरूरतों और लायबिलिटी का ध्यान रखना चाहिए। जानकारों के अनुसार टर्म इंश्योरेंस कवर आपकी सालाना आमदनी का कम से कम 10 गुना होना चाहिए। इसके अलावा अगर आपके ऊपर लोन या कर्ज है तो इसे भी ध्यान में रखना चाहिए। टर्म इंश्योरेंस प्लान खरीदते समय आपको उम्र और अवधि के तथ्यों को ध्यान में रखना चाहिए। महंगाई को आपके परिवार की लाइफस्टाइल को बाधित करने से बचाने के लिए, आप ऊंचा इंश्योरेंस कवर ले सकते हैं। याद रखें, महंगाई को महत्व नहीं दिया तो ये आपके परिवार को आगे परेशानी में डाल सकती है।

हेल्थ इंश्योरेंस पर कितना मिलता है टैक्स छूट का लाभ

यदि आप खुद के और अपनी पत्नी व बच्चों के लिए कोई पॉलिसी खरीदते हैं

आपको प्रीमियमों पर अधिकतम 25,000 रुपए का डिडक्शन मिल सकता है

यदि आप एक वरिष्ठ नागरिक हैं

डिडक्शन लिमिट बढ़ कर 30,000 रुपए हो जाती है

यदि आप अपने माता-पिता के लिए कोई पॉलिसी खरीदते हैं

आपको अधिकतम 25,000 रुपए का डिडक्शन मिल सकता है

यदि आपके माता-पिता वरिष्ठ नागरिक हैं

डिडक्शन लिमिट बढ़ कर 30,000 रुपए हो जाती है

यदि आप खुद के लिए, पत्नी व बच्चों के लिए कोई पॉलिसी खरीदते हैं और अपने माता-पिता के लिए अन्य पॉलिसी खरीदते हैं

आपको दो डिडक्शन मिलेंगे:

  • अपनी पॉलिसी के लिए 25,000 रुपए तक और
  • आपके माता-पिता की पॉलिसी के लिए 25,000 रुपए तक

यदि आपके माता-पिता वरिष्ठ नागरिक हैं और आप उनके लिए भी कोई प्लान खरीदते हैं

आपको दो डिडक्शन मिलेंगे:

  • अपनी पॉलिसी के लिए 25,000 रुपए तक और
  • आपके माता-पिता की पॉलिसी के लिए 25,000 रुपए तक

यदि आप और आपके माता-पिता वरिष्ठ नागरिक हैं और आप दो पॉलिसी खरीदते हैं, जिनमें से एक आपके परिवार तथा दूसरी आपके माता-पिता को कवर करती है

आपको दो डिडक्शन मिलेंगे:

  • अपनी पॉलिसी के लिए 30,000 रुपए तक और
  • आपके माता-पिता की पॉलिसी के लिए 30,000 रुपए तक

लाइफ इंश्योरेंस पर टैक्स छूट का लाभ

आप पूरे वित्त वर्ष में जीवन बीमा पॉलिसी के लिए जो प्रीमियम चुकाते हैं उस रकम पर इनकम टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 80C के तहत कर छूट पा सकते हैं। इस सेक्शन में आप अधिकतम 1.5 लाख रुपए के निवेश पर टैक्स छूट पा सकते हैं।

टैक्स बचाने के लिए बचत योजनाओं में करें निवेश
अगर आप इनकम टैक्स बचाने के साथ ही निवेश पर बेहतर रिटर्न चाहते हैं तो आप पोस्ट ऑफिस द्वारा संचालित सेविंग स्कीम्स में निवेश कर सकती हैं। सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम, पब्लिक प्रॉविडेंट फंड और टाइम डिपॉजिट योजना सहित कई योजनाओं पर टैक्स छूट का लाभ मिलता है। इसके अलावा टैक्स सेविंग FD या ELSS में निवेश करके आप टैक्स बचा सकते हैं।

Source link

Most Popular

शेखर सुमन ने सुशांत की मौत की जांच पर कहा- सबूतों के अभाव के चलते CBI, NCB और ED असहाय हैं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप44 मिनट पहलेकॉपी लिंकसुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच को...

पति के साथ रोज-रोज के झगड़े से तंग आकर पत्नी ने लगाई फांसी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपसागर10 मिनट पहलेकॉपी लिंकपुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर...

हर तरह के टेक्सचर वाले बालों के लिए परफेक्ट चॉकलेट हेयर मास्क, इसे 15 दिन में एक बार ही लगाएं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप2 घंटे पहलेकॉपी लिंकचॉकलेट मास्क लगाने के बाद बाल ज्यादा ब्राइट...