Home राज्य कर्नाटक का 1 साल पुराना वीडियो, उज्जैन में चल रहे सांप्रदायिक तनाव...

कर्नाटक का 1 साल पुराना वीडियो, उज्जैन में चल रहे सांप्रदायिक तनाव का बताकर वायरल

  • Hindi News
  • No fake news
  • Ujjain Stone Pelting In Ram Mandir Fund Raising Rally। Video Goes Viral With False Claim

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

क्या हो रहा है वायरल : मध्यप्रदेश के उज्जैन में चल रहे सांप्रदायिक तनाव के बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो मे बड़ी संख्या में इकट्ठा हुई भीड़ देखी जा सकती है।

दावा किया जा रहा है कि उज्जैन में जिस जगह राम मंदिर के लिए चंदा मांगने गए लोगों पर पत्थरबाजी की गई थी। उस जगह हमले का जवाब देने के लिए बड़ी संख्या में हिंदू इकट्ठा हो गए हैं।

26 दिसंबर को उज्जैन के बेगमबाग इलाके में दो गुटों के बीच टकराव हो गया। अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदिर के लिए चंदा जुटाने के लिए एक रैली आयोजित की गई थी। बेगमबाग इलाके में कुछ लोगों ने इस रैली पर पथराव कर दिया।

पुलिस ने कथित पथराव करने के आरोप में 2 महिलाओं सहित 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। जिस घर से पथराव हुआ, उसे भी अवैध निर्माण बताते हुए प्रशासन ने जमींदोज कर दिया है। इसी तनाव के बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो के जरिए दावा किया जा रहा है कि घटनास्थल पर अब हिंदुओं की भीड़ इकट्ठी हो गई है।

और सच क्या है ?

  • उज्जैन में चल रहे सांप्रदायिक तनाव से जुड़ी सभी प्रमुख मीडिया रिपोर्ट्स हमने चेक कीं। किसी भी रिपोर्ट में हमें वायरल हो रहा वीडियो नहीं मिला।
  • वीडियो के की-फ्रेम्स को गूगल पर रिवर्स सर्च करने से हमें यही वीडियो यूट्यूब पर भी मिला। यूट्यूब पर वीडियो 13 अप्रैल, 2019 को ही अपलोड किया जा चुका है। साफ है कि वीडियो का हाल में चल रहे सांप्रदायिक तनाव के कोई संबंध नहीं है।

  • वायरल वीडियो का यूट्यूब वीडियो से मिलान करने पर भी स्पष्ट हो रहा है कि दोनों की लोकेशन एक है। यूट्यूब पर दिए गए वीडियो के कैप्शन से हमें क्लू मिला कि ये कर्नाटक के गुलबर्गा में निकली एक राम नवमी शोभा यात्रा का है।
  • गूगल पर Gulbarg Shobha Yatra कीवर्ड सर्च करने से हमारे सामने अप्रैल 2019 के ही कई वीडियो आए। सभी वीडियो एक ही आयोजन के लग रहे हैं। सभी वीडियो के कैप्शन में इस कार्यक्रम को गुलबर्गा का बताया गया है। कैप्शन से ये भी पता चला कि वीडियो में दिख रही मस्जिद गुलबर्गा की जामा मस्जिद है।
  • गूगल पर गुलबर्गा की जामा मस्जिद के विजुअल्स हमने सर्च किए। जामा मस्जिद के विजुअल्स को वायरल वीडियो से मिलाने पर साफ हो रहा है कि दोनों एक ही हैं।
  • मतलब साफ है कि सोशल मीडिया पर गुलबर्गा में 1 साल पहले निकली राम शोभा यात्रा के वीडियो को उज्जैन में चल रहे सांप्रदायिक तनाव से जोड़कर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

Source link

Most Popular

भारत के डेट बाजार से FII ने एक लाख करोड़ निकाले, लेकिन चीन में किया 8.6 लाख करोड़ का निवेश

Hindi NewsBusinessFIIs Withdraw One Lakh Crore From Indian Stock Market, China Invested 8.6 Lakh Crore | Here's All You Need To KnowAds से है...

पहली बीवी से तलाक के बाद ऐसे आमिर खान की जिंदगी में आईं थी किरण राव, 30 मिनट तक फोन पर बात करके उनसे...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप19 दिन पहलेआमिर खान और किरण राव की शादी को 15...

बिना नारे लगाए हाथों में बैनर लिए सड़क निर्माण को लेकर निकाला मौन पैदल मार्च

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपखरगोन6 दिन पहलेकॉपी लिंकसनावद विकास संघर्ष समिति ने इंदौर-इच्छापुर हाईवे पर...

वैक्सीन मन को नहीं भाई; पहले आप, पहले आप कहकर बचने की जुगत लगाई

आज का राशिफलमेषमेष|Ariesपॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण...