Home राज्य भोपाल में फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ इकबाल मैदान में जुटे हजारों...

भोपाल में फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ इकबाल मैदान में जुटे हजारों लोग; हाथों में तख्तियां लेकर जमकर नारेबाजी

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Bhopal Congress MLA Arif Masood, And Other Raised Slogans Against France President Emmanuel In Bhopal Iqbal Maidan

भोपाल29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद पर की गई टिप्पणी के खिलाफ भोपाल में गुरुवार को हजारों लोग सड़क पर उतर आए।

  • भोपाल मध्य के विधायक आरिफ मसूद ने कहा- भारत सरकार को फ्रांस से सभी तरह के रिश्ते तोड़ लेने चाहिए

राजधानी भोपाल के इकबाल मैदान में हजारों की संख्या में लोग एकत्र हुए और फ्रांस के राष्ट्रपति का कड़ा विरोध किया। मुस्लिम समाज के लोग भोपाल मध्य विधायक आरिफ मसूद के नेतृत्व में यहां पर एकत्र हुए और फ्रांस के राष्ट्रपति का विरोध किया। साथ ही उनसे माफी मांगने की अपील की। हजारों की संख्या में पहुंचे लोगों के हाथों में तख्तियां थीं और वह जोरदार नारे लगा रहे थे।

इकबाल मैदान में हजारों लोग जुटे और उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया।

इकबाल मैदान में हजारों लोग जुटे और उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया।

बताया जा रहा है कि फ्रांस के राष्ट्रपति ने पैगंबर हजरत मोहम्मद का कार्टून बनाया। उनके खिलाफ अभद्र टिप्पणी की जिसके चलते हैं। विश्व भर के मुस्लिम समुदाय में आक्रोश है और उनसे माफी मांगने की अपील की जा रही है। मुस्लिम समुदाय के रहनुमाओं का कहना है कि जब तक वह माफी नहीं मांगेंगे, तब तक इसी तरह के आंदोलन विश्व भर में जारी रहेंगे भारत में भी इस तरह के आंदोलन जगह-जगह किए जाएंगे।

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो का जमकर विरोध हो रहा है।

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो का जमकर विरोध हो रहा है।

विधायक मसूद ने भारत सरकार से फ्रांस से सभी तरह के रिश्ते तोड़ने की की अपील

मोहम्मद नबी की शान में गुस्ताखी करने पर विधायक मसूद ने भारत सरकार से सभी तरह के आर्थिक रिश्ते तोड़ने की बात कही। उन्होंने कहा कि फ्रांस के राष्ट्रपति ने भारत में रह रहे मुस्लिमों को आहत किया है। इसलिए भारत के प्रधानमंत्री को या निर्णय लेना चाहिए कि फ्रांस से अब हमें आयात-निर्यात बंद कर दिया जाए। इस दौरान इकबाल मैदान में भारी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग पहुंचे।

इकबाल मैदान में हजारों लोग हाथ तख्तियां लेकर पहुंच गए।

इकबाल मैदान में हजारों लोग हाथ तख्तियां लेकर पहुंच गए।

किसी के चेहरे पर मास्क नहीं, सोशल डिस्टेंसिंग भी नहीं दिखाई दी

फ्रांस के विरोध में हजारों की संख्या में लोग उपस्थित हो गए। वहां पर किसी भी तरह की प्रदर्शन में ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया और ना ही मास्क लगाए। बड़ी संख्या लोग आए और फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। इस दौरान प्रशासन ने भी ध्यान नहीं दिया कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया और न ही मास्क लगाने की बात की गई।

फ्रांस के राष्ट्रपति के फोटो लगाकर उसे पैरों से कुचला गया।

फ्रांस के राष्ट्रपति के फोटो लगाकर उसे पैरों से कुचला गया।

ये है आंदोलन और विरोध प्रदर्शन की वजह

तनाव तब शुरू हुआ, जब सितंबर में विवादित कार्टून मैग्जीन चार्ली हेब्दो ने पैगंबर मुहम्मद के विवादित कार्टून फिर से छाप दिए। 2015 में इसी कार्टून को छापने को लेकर चार्ली हेब्दो के ऑफिस पर आतंकी हमला हुआ था। 14 आरोपियों के खिलाफ सुनवाई शुरू होने वाली थी। उससे ठीक पहले चार्ली हेब्दो ने फिर वही कार्टून छाप दिए। इसमें आग में घी काम किया मैक्रों के बयान ने। उन्होंने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि वे इस्लामिक अलगाववाद से लड़ना चाहते हैं। इसमें उन्होंने यह भी कहा कि यह धर्म पूरी दुनिया में आज संकट के दौर से गुजर रहा है।

Source link

Most Popular

S&P डाऊजोंस इंडिसेज 2021 में क्रिप्टोकरेंसी इंडेक्स लांच करेगी, वर्चुअल करेंसी कंपनी लुक्का से आंकड़े लेगी

Hindi NewsBusinessS And P Dow Jones Indices To Launch Cryptocurrency Indexes In 2021 Virtual Currency Company Lucca Will Provide DataAds से है परेशान? बिना...

जेल में 90 दिनों से बंद हैं कन्नड़ एक्ट्रेस रागिनी द्विवेदी, सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक सरकार से मांगा जवाब

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप13 मिनट पहलेकॉपी लिंकबॉलीवुड के बड़े नामों की तरह ही कन्नड़...