Home राज्य सांसद के भतीजे से मारपीट मामले में हर पक्ष के अपने तर्क...

सांसद के भतीजे से मारपीट मामले में हर पक्ष के अपने तर्क और बेगुनाही का दावा, फिर कैसे मच गया हंगामा

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Case Of MP’s Nephew Assaulted, Each Party’s Own Arguments And Claims Of Innocence, Then How The Uproar Broke Out

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप

जबलपुर6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

विवाद के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और बीजेपी समर्थक।

  • रविवार रात सर्किट हाउस क्रमांक दो के पास कार की टक्कर के बाद गहराया था विवाद

वाहन में टक्कर के बाद गहराए विवाद में पहले वेटरनरी विभाग के पूर्व छात्र डॉक्टर नरेंद्र सिंह तोमर और फिर सांसद राकेश सिंह के भतीजे तनिष्क राज सिंह के साथ मारपीट मामले में तेजी से बदले घटनाक्रम में 82 बेगुनाह छात्र पिस गए। इसमें 24 की आज परीक्षा थी। बावजूद, उन्हें रात भर थाने में ठिठुरना पड़ा। होस्टल में घुसकर पुलिस सभी को सोते से उठा ले गई। पूछताछ के बाद सभी छात्रों को निर्दोष कह छोड़ भी दिया गया।

छात्रों का सवाल है कि आखिर में उनका गुनहगार कौन है? मामले में जहां सांसद का अपना पक्ष है। वहीं, पूर्व एमआईसी सदस्य का अपना दावा है। एसपी कानून व्यवस्था हवाला दे रहे हैं, तो वेटरनरी विवि के कुलसचिव का अपना जवाब है। हलचल टुडे ने इस हाईप्रोफाइल मामले में हर उस व्यक्ति से बात करने की कोशिश की, जो इस विवाद से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष जुड़े हैं।

सांसद राकेश सिंह

सांसद राकेश सिंह

मेरे भाई ने ही सभी होस्टल वालों को छुड़वाया: सांसद
सांसद राकेश सिंह के मुताबिक मेरा भांजा अपने दोस्त व उसकी मां के साथ थे, जब गाड़ी में टक्कर लगी। भांजा उतर कर गाड़ी का नंबर नोट करने लगा। मैं चार बार का सांसद हूं। मेरे परिवार में कोई सीधे पुलिस को फोन नहीं लगाता। भतीजे ने पीए को फोन लगाया। पीए ने सिविल लाइंस टीआई को फोन किया। पुलिस के पहुंचने से पहले होस्टल से निकले 70-80 की संख्या में छात्रों ने भतीजे को दौड़ा कर मारपीट की और उसका अपहरण करने की कोशिश की। पार्टी कार्यकर्ता समय रहते नहीं पहुंचते, तो कुछ भी हो सकता था। बावजूद मेरे भाई ने ही बोलकर आरोपी की पत्नी और होस्टल के छात्रों को छुड़वाया है।

कमलेश अग्रवाल, पूर्व एमआईसी सदस्य।

कमलेश अग्रवाल, पूर्व एमआईसी सदस्य।

विवाद की सूचना पर बीच-बचाव करने पहुंचा था – अग्रवाल
वहीं, पूर्व एमआईसी सदस्य कमलेश अग्रवाल का दावा है कि सिविल लाइंस क्षेत्र में शांति बनी रहे, इसका हमेशा प्रयास करता रहा हूं। जैसे ही मुझे विवाद की सूचना मिली, मौके पर पहुंच गया। वहां कुछ लोग आपस में मारपीट कर रहे थे। मैंने सभी पक्षों को समझा कर शांति स्थापित कराने का प्रयास किया। उलटे मुझ पर और मेरे साथ गए लोगों पर ही पथराव कर दिया गया। इसके बाद पुलिस पहुंच गई थी। प्रकरण में मैं या मेरे समर्थकों ने किसी तरह कानून को हाथ में नहीं लिया है।

विनोद कुमार वाजपेयी, कुल सचिव वेटरनरी विवि

विनोद कुमार वाजपेयी, कुल सचिव वेटरनरी विवि

कमेटी की जांच में छात्र निर्दोष – रजिस्ट्रार
वेटरनरी विवि के कुलसचिव विनोद कुमार वाजपेयी के मुताबिक इस प्रकरण में तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर जांच कराई गई। कमेटी में डॉक्टर आदित्य मिश्रा, डॉक्टर आरपीएस बघेल व होस्टल वार्डन सत्य निधि शुक्ला शामिल थे। कमेटी ने रिपोर्ट में बताया कि होस्टल के कुछ छात्र डॉक्टर की कार एक्सीडेंट की खबर सुनकर गए थे, तभी कार सवार और 20-25 लोगों ने उनके साथ मारपीट कर दी। छात्रों ने किसी के साथ मारपीट नहीं की। पुलिस सिर्फ पूछताछ की अनुमति लेकर आई थी और छात्रों को ले गई। आखिर में सभी 82 लोगों को छाेड़ दिया गया।

सिद्धार्थ बहुगुणा, एसपी जबलपुर (नीली शर्ट में)

सिद्धार्थ बहुगुणा, एसपी जबलपुर (नीली शर्ट में)

कानून व्यवस्था न बिगड़े इस कारण बल लेकर पहुंचा – एसपी
पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के मुताबिक विवाद के बाद मौके पर बीजेपी के कार्यकर्ता एकत्र होने लगे थे। विवाद अधिक न बढ़े, इस कारण मैं स्वयं और सिटी के अन्य थानों का बल लेकर पहुंचा था। घायल तनिष्क सिंह की शिकायत पर प्रकरण दर्ज किया गया। विवेचना जारी है। 79 छात्रों को सुबह और तीन अन्य को शाम को बयान लेकर छोड़ दिया गया। अभी तक दूसरे पक्ष से आवेदन नहीं आया है। यदि आएगा, तो वैधानिक कार्रवाई होगी।

Source link

Most Popular

उस मुगल बादशाह का जन्म, जिसने दुनिया के लिए प्रेम का प्रतीक बनाया

Hindi NewsNationalToday History: Aaj Ka Itihas India World 4 January Update | GSAT 14 Deployed Successfully, Mughal Emperor Shah Jahan Interesting FactsAds से है...

भारत के डेट बाजार से FII ने एक लाख करोड़ निकाले, लेकिन चीन में किया 8.6 लाख करोड़ का निवेश

Hindi NewsBusinessFIIs Withdraw One Lakh Crore From Indian Stock Market, China Invested 8.6 Lakh Crore | Here's All You Need To KnowAds से है...

पहली बीवी से तलाक के बाद ऐसे आमिर खान की जिंदगी में आईं थी किरण राव, 30 मिनट तक फोन पर बात करके उनसे...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐप19 दिन पहलेआमिर खान और किरण राव की शादी को 15...

बिना नारे लगाए हाथों में बैनर लिए सड़क निर्माण को लेकर निकाला मौन पैदल मार्च

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें हलचल टुडे ऐपखरगोन6 दिन पहलेकॉपी लिंकसनावद विकास संघर्ष समिति ने इंदौर-इच्छापुर हाईवे पर...