Home वीमेन ‘वर्क फ्रॉम होम’ यानी घर-परिवार के साथ दफ्तर के काम, चुनौतियों के...

‘वर्क फ्रॉम होम’ यानी घर-परिवार के साथ दफ्तर के काम, चुनौतियों के बीच ऐसे बिठाएं काम और घर में समन्वय

हलचल टुडे

Apr 11, 2020, 11:10 AM IST

कोरोना के खतरे के चलते अधिकतर कंपनियों ने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दी है। ये जहां एक तरह की सुविधा है वहीं महिलाओं के लिए थोड़ी समस्या भी खड़ी करती है। बच्चों और परिवार के साथ घर से कार्य करना जरा मुश्किल-भरा होता है। थोड़ी योजना बनाकर इस परेशानी को दूर किया जा सकता है। आइए जानते हैं कैसे…

ये उपाय आजमाएं

सुबह काम जल्दी शुरू कर सकती हैं। सुबह उठने के बाद कॉफी या चाय पीने के साथ ही काम को शुरू कर दें, हालांकि यह आपके ऑफिस के समय से थोड़ा पहले का समय होगा लेकिन इससे आपको ही फायदा होगा। सुबह की ताजगी और शांति में काम जल्दी व बेहतर होगा।

सुपर वूमन न बनें

घर के अधिकतर कार्य महिलाओं को ही करने पड़ते हैं। ऐसे में एक बात का ख्याल रखें कि आप सुपरवूमन नहीं बल्कि सामान्य इंसान हैं। सारे कार्य करने की कोशिश न करें तो ही बेहतर है। ढेर सारा काम करने के बाद, दफ्तर के काम को करने की ऊर्जा नहीं बचेगी, इससे आप तनाव व अवसाद में रहेंगी।

जो सुबह चूक गए तो

दोपहर बाद, जब घर के अन्य सदस्य नींद लेने की योजना बना रहे हों और बच्चे टीवी देख रहे हैं तो इस समय का पूरा इस्तेमाल करें। इस दौरान दफ्तर के जरूरी काम पहले करें। जैसे- कॉन्फ्रेस कॉल, मेल लिखना या प्रोजेक्ट संबंधित कार्य करना।

चिंता का वक्त नहीं है

कुछ बातों को लेकर चिंता करना बंद कर दें। जैसे बच्चे आजकल बहुत अधिक टीवी देखने लगे हैं। काम के कारण उन पर ध्यान नहीं दे पा रही हैं, ऐसा सोचकर दोषी महसूस न करें। ध्यान रखें कि ये समय आपके लिए परीक्षा का भी है और सभी के साथ वक्त बिताने का भी। इसलिए चिंता छोड़कर मन लगाकर काम करें।

चुनौतियों का सामना

घर से काम करते हुए उत्पादकता (प्रोडक्टिविटी) में बाधा आए बिना काम का प्रबंधन करना सबसे बड़ी चुनौती है। बच्चे मानते हैं कि जब आप घर पर हैं, तो आप उनकी गतिविधियों में भी भाग लेंगी। लेकिन यह महत्वपूर्ण है कि बच्चे आपके काम के महत्व को समझें। आप उन्हें रंग भरने और बोर्ड गेम, ड्रॉइंग जैसे काम दे सकती हैं। जब आप काम करें, तो बच्चों से स्पर्धा रखते हुए  टाइमलाइन के साथ कुछ लेखन का अभ्यास कराएं।

समन्वय कैसे बैठाएं

बच्चों को संभालना मुश्किल होता है ख़ासतौर पर तब जब आप काम करने बैठती हैं। अब जब सभी सदस्य घर पर हैं तो उन्हें बच्चों को संभालने की ड्यूटी दें। कोशिश करें कि समय को बांटकर कार्य करें। उदाहरण के तौर पर…

  • परिवार के किसी अन्य सदस्य कोे बच्चों को नहलाने-धुलाने, तैयार कराने की ड्यूटी दी जा सकती है।
  • यदि बच्चे थोड़े समझदार हैं तो दोपहर का भोजन तैयार करने के लिए उनकी मदद ले सकती हैं। उनसे सब्जियां साफ करवा सकती हैं। इससे मदद मिलेगी और काम भी जल्दी होगा।
  • यदि भोजन की तैयारी सुबह नाश्ते के बाद ही कर लेंगी तो इससे दोपहर में सारा काम एक साथ करने का तनाव कम होगा।
  • आप और पति दोनों ही वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं ऐसे में कार्यों में बांटने में हिचकिचाएं न। पति सुबह का नाश्ता बना सकते हैं। ऐसे में आपका वक़्त बचेगा और इस समय का उपयोग आप ईमेल आदि को चेक करने में बिता सकती हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

भोपाल के भेल दशहरा मैदान में नहीं होगा रावण दहन; समिति ने कहा- सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना मुश्किल है

Hindi NewsLocalMpBhopalRavana Combustion Will Not Happen In BHEL Dussehra Ground; The Committee Said Social Distancing Is Difficult To Followभोपालएक घंटा पहलेकॉपी लिंकअन्य जगह... कहीं...

कॉफी के नुकसान और फायदे को लेकर क्या कहती हैं अलग-अलग स्टडी; कैसी और कितनी मात्रा में पियें कॉफी?

2 घंटे पहलेकॉपी लिंक2015 में पहली बार कॉफी को सेहत के लिए फायदेमंद बताया गया, 2017 में ब्रिटिश मेडिकल जर्नल ने पाया कि कॉफी...